बिजली कम्पनियोंं ने प्रति यूनिट 19 पैसे घटाया फ्युअल सरचार्ज

उपभोक्ताओं को तीन माह में मिलेगी 356 करोड़ की राहत : Electric company, units, fuel surcharge, energy minister, Gujarat

By: Pushpendra Rajput

Published: 28 Oct 2020, 09:31 PM IST

गांधीनगर. राज्य सरकार के अधीनस्थ बिजली कम्पनियों ने उपभोक्ताओं से वसूले जाने वाले फ्युअल सरचार्ज में प्रति यूनिट 19 पैसे कमी है। इसके चलते उपभोक्ताओं को तीन माह में करीब 356 करोड़ रुपए की राहत होगी। राज्य के ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल ने इस अहम निर्णय की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि राज्य में बिजली उपभोक्ताओं को सस्ता दरों पर बिजली मुहैया कराने और बिजली उत्पादन खर्च का बोझ उपभोक्ताओं पर नहीं हो इसके लिए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने उपभोक्ताओं के हित में कई अहम निर्णय किए हैं। इसके मद्देनजर ही राज्य सरकार के अधीनस्थ बिजली कम्पनियों ने प्रति यूनिट 19 पैसे फ्युअल चार्ज घटाया है। इसके चलते ही राज्य के 1.40 करोड़ से ज्यादा ग्राहकों को तीन माह में 356 करोड़ रुपए की राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं से बिजली बिल में एनर्जी चार्ज के अलावा फ्युअल चार्ज भी गुजरात बिजली नियमन आयोग की ओर से निर्धारित फार्मूला से वसूला जाता है। पिछले तीन माह में अर्थात् जुलाई से सितम्बर तक गुजरात ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड के तहत चारों बिजली आपूर्ति कम्पनियों ने प्रति यूनिट 2 रुपए वसूलती थी। जबकि अक्टूबर से दिसम्बर-2020 तक तीन माह में प्रति यूनिट 1.81 रुपए फ्युअल चार्ज वसूला जाएगा। इस तरीके से तीन माह में प्रति यूनिट 19 पैसे फ्युअल चार्ज घटाया गया है। अंतररराष्ट्रीय बाजार में सस्ते में कोयला और गैस उपलब्ध होने से फ्युअल चार्ज में यह कटौती की गई।

पटेल ने कहा कि राज्य सरकार ने सस्ते दर पर गैस की खरीदारी की थी। इसके चलते बिजली उत्पादन का खर्च घटा। इसके चलते राज्य सरकार बिजली उपभोक्ताओं को इसका लाभ देने का निर्णय किया।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned