आखिरकार गुजरात में राजकोट को मिला एम्स

-राजकोट में खंढेरी क्रिकेट स्टेडियम के पास चिन्हित की गई जमीन

-सौराष्ट्र सहित पूरे गुजरात व पड़ोसी राजस्थान को भी मिलेगा लाभ

By: Uday Kumar Patel

Published: 03 Jan 2019, 10:14 PM IST

 

-गांधीनगर. आखिरकार गुजरात में एम्स के स्थल से पर्दा उठ ही गया। अब गुजरात का एम्स राजकोट में स्थापित होगा। उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने गुरुवार को यह घोषणा करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने 1200 करोड़ के खर्च से अत्याधुनिक एम्स अस्पताल राजकोट में स्थापित करने का निर्णय लिया है। यह अस्पताल 800 से 1000 बिस्तरों वाला होगा।
केन्द्र सरकार ने वडोदरा और राजकोट में एम्स की स्थापना के लिए स्थल चयन के संबंध में समिति का गठन किया था। इस समिति ने भौगोलिक परिस्थिति सहित स्थानीय उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं, स्थानीय आधारभूत सुविधाओं व मरीजों को ज्यादा से ज्यादा उपचार संबंधी लाभ को ध्यान में रखकर वडोदरा का चयन किया है।
इस निर्णय को भारत के स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंजूरी दी गई है। इसलिए अब राजकोट में विश्व स्तरीय अस्पताल बनेगा। इसका लाभ गुजरात के साथ-साथ पड़ोसी राज्य राजस्थान के मरीजों को भी मिलेगा।
उपमुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के नागरिकों के लिए विश्व स्तरीय अस्पताल का उपहार दिया है।
राजकोट में एम्स स्थापित होने से सभी प्रकार के गंभीर रोगों में भी मरीजों को गुजरात में आधुनिक उपकरण, लेबोरेटरी, अत्याधुनिक रिसर्च सेन्टर सहित कई प्रकार की सुविधाएं मिलेंगी।
राजकोट में एम्स स्थापित होने से पूरे सौराष्ट्र के लोगों को लाभ मिलेगा। इनमें भावनगर, जूनागढ़, अमरेली, जामनगर, पोरबंदर सहित कच्छ का क्षेत्र भी शामिल है।
कुछ दिनों पहले भी एम्स के लिए राजकोट के चयन की बात कही गई थी, लेकिन इसकी घोषणा आधिकारिक रूप से नहीं की गई थी। केन्द्र ने कुछ वर्ष पहले गुजरात में एम्स की घोषणा की थी। राज्य सरकार ने इसके लिए राज्य के दो स्थलोंृ-वडोदरा व राजकोट- का चयन किया था। केन्द्र की टीम ने इन दोनों स्थलों का दौरा किया था।

जून 2014 में केन्द्र ने भेजी थी दरख्वास्त

केन्द्र के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय ने जून 2014 में राज्य में एम्स आरंभ किए जाने को लेकर उचित स्थल का चयन करने को दरख्वास्त भेजी थी। इसके बाद राज्य सरकार ने 6 अगस्त 2014 को राजकोट या वडोदरा जिला में एम्स आरंभ करने की दरख्वास्त भेजी थी। तब कांग्रेस के विधायकों ने विधानसभा में यह कहा था कि दरख्वास्त को भेजे हुए कई वर्ष बीत चुके हैं, लेकिन अब तक स्थल के चयन का मामला अटका पड़ा है। तब सरकार ने कहा था कि इस पर प्रक्रिया जारी है।

वडोदरा व राजकोट के बीच था विवाद

गुजरात में एम्स को लेकर पिछले कुछ वर्षों से विवाद चल रहा था। वडोदरा के विधायक वडोदरा में एम्स की मांग कर रहे थे वहीं सौराष्ट्र के विधायकों ने इसके राजकोट में स्थापित किए जाने की मांग की थी।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned