मूंगफली के गोदाम की आग पांचवें दिन भी बेकाबू

मूंगफली के गोदाम की आग पांचवें दिन भी बेकाबू

Rajesh Bhatnagar | Publish: Feb, 03 2018 11:42:34 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

यह आग कब बुझेगी...

राजकोट. गोंडल में उमवाड़ा चौकड़ी के निकट रामराज्य जिनिंग मिल में समर्थन मूल्य पर खरीदी गई करीब 35 करोड़ रुपए की मूंगफली में मंगलवार शाम को लगी आग शनिवार को लगातार पांचवें दिन भी जारी रही। आग पर काबू ना पाने के कारण धुएं से गोंडल का वातावरण प्रदूषित होने लगा है।

गोंडल में वातावरण प्रदूषित, बीमारियों की शिकायतें बढ़ी

हवा में कार्बन का प्रभाव बढऩे के कारण गोंडल में नागरिकों को सर्दी, खांसी, गले व आंख में जलन आदि बीमारियों की शिकायतें भी बढऩे लगी हैं। आग बुझने के सवाल के साथ ही प्रशासन से मूंगफली को अन्यत्र ले जाने की मांग भी नागरिकों की ओर से की जा रही है।

स्कूल के 12 सौ विद्यार्थियों को छुट्टी
गोदाम के समीप स्थित ऑक्सफोर्ड इंटरनेशनल स्कूल स्कूल के ट्रस्टी जगदीश सटोडिया के अनुसार आग का धुआं व धूल बड़े पैमाने पर पहुंचने के कारण स्कूल के विद्यार्थियों के स्वास्थ्य के मद्देनजर 12 सौ विद्यार्थियों को शनिवार को छुट्टी दे दी गई।
सीआईडी टीम को नहीं मिला कारण
मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की ओर से इस आग के कारणों की जांच के लिए सीआईडी की टीम को निर्देश दिए गए। हालांकि सीआईडी की टीम को भी आग लगने के स्पष्ट कारण का पता नहीं लगा है।
वेल्ंिडग के स्पार्क से आग!
सीआईडी जांच में फिलहाल उजागर हुआ है कि गोदाम में वेल्डिंग काम चल रहा था। इस दौरान वेल्डिंग के स्पार्क से आग लगी हो सकती है। छह जने वेल्ंिडग के लिए गोदाम में गए थे, ऐसी जानकारी मिली है। दूसरी ओर, जांच एजेंसी एवं अधिकारियों का मानना है कि गोदाम में विद्युत कनेक्शन ही नहीं था तो वेल्डिंग कैसे संभव है?
मूंगफली में तेल के कारण आग बेकाबू
मूंगफली में ६० प्रतिशत तेल है, जिसके कारण आग को काबू में लेना मुश्किल हो रहा है। गोदाम में अभी भी धुआं के गोले दिखाई दे रहे हैं और तेल से आग भी बेकाबू है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned