बाढ़ व भारी बारिश के दौरान स्वैक के वायु योद्धाओं का साहसिक कार्य

बाढ़ व भारी बारिश के दौरान स्वैक के वायु योद्धाओं का साहसिक कार्य
बाढ़ व भारी बारिश के दौरान स्वैक के वायु योद्धाओं का साहसिक कार्य

Uday Kumar Patel | Updated: 23 Aug 2019, 03:35:31 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India


-राहत व बचाव कार्य में जान पर खेल कर बचाई जान

 

अहमदाबाद. भारतीय वायु सेना के दक्षिण पश्चिम वायु कमान (स्वैक) ने गत दिनों गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक में आई भारी बारिश और बाढ़ के दौरान वायु योद्धाओं ने मानवीय व राहत मिशन (एचएडीआर) का बेजोड़ कार्य किया। इन तीनों जगहों के वायु योद्धाओं को गुरुवार को गांधीनगर स्थित स्वैक मुख्यालय में आमंत्रित किया गया था। इन योद्धाओं ने बाढ़ और भारी बारिश के दौरान लोगों के बचाव राहत सामग्री वितरित करने व अन्य संबंधित जानकारियां दी।
मौसम बुलेटिन के आधार पर स्वैक के एयर ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ (एओसी इनसी) एयर मार्शल एच एस अरोड़ा ने गत महीने समीक्षा बैठक के दौरान गुजरात और महाराष्ट्र के विभिन्न नोडल पॉइंट्स पर स्थित वायु परिसंपत्तियों को सक्रिय रहने के निर्देश दिए थे। इस कारण बारिश से प्रभावित इलाकों, विशेषकर नवसारी, सूरत जामनगर और भुज में त्वरित बचाव व राहत कार्य किए गए।
भारतीय सेना, भारतीय नौसेना, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की बचाव टीमों ने वडोदरा पुणे और बेलगाम से विभिन्न एयरबेस तक एएन-32, एवरो, सी-130 तथा हेवी लिफ्ट एयरक्राफ्ट जैसे सी-17, आईएल-76 तथा हेलीकॉप्टरों की मदद से प्रभावित एरिया में बखूबी राहत और बचाव कार्य किया
स्वैक में बचाव राहत कार्य के दौरान ज्यादा संख्या में उ?ानें भरी और करीब 300 लोगों को बचाया जिसमें महिलाएं व बच्चे शामिल थे इसके अलावा करीब 7 टन राहत सामग्री एयरलिफ्ट की और इनमें से 23000 किलो फूड पैकेट गिराए गए और 200 इस पूरे राहत व बचाव अभियान में आर्मी सेना नौसेना एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की बचाव टीम के 200 कर्मियों ने राहत व बचाव कार्य किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned