Foreigners in Indian Jails: भारत की जेलों में 5608 विदेशी कैदी, सबसे ज्यादा बंगाल में, सर्वाधिक बंगलादेश के कैदी

Foreigners, indian jails, NCRB, West bengal, bangladeshi

By: Uday Kumar Patel

Published: 05 Sep 2020, 12:19 AM IST

उदय पटेल

अहमदाबाद. भारत की जेलों में 5608 विदेशी कैदी हैं। इनमें से 4776 पुरुष कैदी व शेष 832 महिला कैदी हैं। सबसे ज्यादा विदेशी कैदी पश्चिम बंगाल की जेलों में हैं।

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की कारागार सांख्यिकी-भारत की वर्ष 2019 की रिपोर्ट में यह तथ्य सामने आए हैं। पश्चिम बंगाल में इन कैदियों की संख्या 2316 है जो कुल कैदियों का 41.3 फीसदी है। इसके बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र का स्थान है जहां की जेलों में 517 विदेशी कैदी हैं। उत्तर प्रदेश की जेलों में 505 कैदी हैं। इन विदेशी कैदियों में 2171 सजायाफ्ता हैं वहीं 2979 विचाराधीन कैदी हैं और 40 अन्य बंदी है। अरुणाचल प्रदेश, नागालैण्ड, दादरा व नगर हवेली, दमन व दीव तथा लक्षद्वीप में कोई विदेशी कैदी नहीं है वहीं गुजरात में 95 विदेशी कैदी हैं।

पाकिस्तान के 203 कैदी, चीन के 19

इस रिपोर्ट के मुताबिक कैदियों में सबसे ज्यादा संख्या 2513 बंगलादेशियों की है। इसके बाद नाइजीरिया के 811 कैदी हैं। नेपाल के कैदियों की संख्या 745 है वहीं म्यांमार के 302 कैदी हैं। पाकिस्तान के कैदियों की संख्या 203 है।
पड़ोसी देश श्रीलंका के 65 कैदी हैं तथा मध्य पूर्व के देशों के 36 कैदी हैं। चीनी कैदियों की संख्या 19 है।
इनमें 30-50 वर्ष के उम्र के कैदियों का आंकड़ा सबसे ज्यादा 46.6 फीसदी है वहीं 18-30 वर्ष के आयु के कैदी 44.1 फीसदी हैं। शेष 9.3 फीसदी कैदियों की आयु 50 वर्ष या इससे ज्यादा है।
इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि पश्चिम बंगाल की ओर से वर्ष 2018 और वर्ष 2019 का डाटा उपलब्ध नहीं कराया गया है, इसलिए वर्ष 2017 के डाटा का इस्तेमाल किया गया है।

देश में विदेशी कैदियों की संख्या घटी

देश की जेलों में विदेशी कैदियों की संख्या घटी है। वर्ष 2014-2019 के दौरान 16.7 फीसदी की कमी आई है।

वर्ष वार विदेशी कैदियों की संख्या

2014 6733
2015 6620
2016 6370
2017 4917
2018 5168
2019 5608
-----------------

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned