14 वर्ष पूर्व गुम हुआ उत्तरप्रदेश का युवक मेंटल अस्पताल से मिला

14 वर्ष पूर्व गुम हुआ उत्तरप्रदेश का युवक मेंटल अस्पताल से मिला

Omprakash Sharma | Updated: 26 Jul 2019, 11:07:06 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

इकलौता पुत्र मिलने से गांव भर में खुशी व्याप्त

अहमदाबाद. उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद जिले के एक गांव में रहने वाले परिवार की तीन महीने पहले ही दीपावली जैसा त्यौहार मना रहा है। दरअसल इस परिवार का १४ वर्ष पूर्व गुम हुआ इकलौता पुत्र अहमदाबाद के मेंटल अस्पताल से मिल गया। जिसे परिवार के सदस्य ढूंढते-ढूूंढते थक गए थे।
अहमदाबाद के ओढव क्षेत्र में गत फरवरी माह में लावारिश और मानसिक रोग की अवस्था में घूमते हुए एक युवक को स्थानीय पुलिस लेकर मेंटल अस्पताल पहुंची, युवक की आयु करीब ३५ वर्ष है। मानसिक स्थिति ज्यादा खराब होने के कारण वह कुछ बोल नहीं पा रहा था। अस्पताल में भर्ती कर मरीज का उपचार शुरू किया गया। जिससे धीरे-धीरे युवक की हालत में सुधार होता गया और गत जून माह में अस्पताल प्रशासन ने जब उससे पूछा तो वह काफी प्रयास से अपना नाम और पता बता पाया। यह मरीज उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद जिले के एक गांव का रहने वाला है। इस अधार पर अस्पताल प्रशासन ने वहां की पुलिस का संपर्क किया और परिजनों का संपर्क हो सका।
चौदह वर्ष पूर्व घर से निकल गया था युवक
अस्पताल मेें तो महज पांच माह से वह उपचाराधीन है लेकिन जब परिजनों से संपर्क किया तो पता चला कि वर्ष २००५ से लापता है। परिवार में एक बहन और पिता है। जब यह युवक पांच वर्ष का था तभी माता का निधन हो गया था। इकलौते पुत्र के गुम होने से सद्मे में पहुंचा परिवार पूरी तरह से टूट गया था। परिवार के अलावा रिश्तेदारों ने भी ढूंढने के काफी प्रयास किए लेकिन सब विफल रहे। हार थककर घर बैठे परिवार को अब उनके पुत्र के इस दुनिया में होने की खबर मिली तो खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा। परिवार ही नहीं पूरे गांव में खुशी छा गई। इलाहाबाद से उसे लेने के लिए परिवार के सदस्य शनिवार को अस्पताल आएंगे।
शिजोफ्रेनिया से ग्रस्त है युवक
मरीज शिजोफ्रेनिया नामक मानसिक रोग से पीडि़त है। अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक एवं मनोचिकित्सक डॉ. अजय चौहाण की अगुवाई में डॉ. चिराग परमार एवं डॉ. केविव पटेल उसका उपचार कर रहे हैं। अस्पताल के सामाजिक विभाग तथा मरीजों के हित में काम करने वाली आधार संस्था के प्रयास से युवक के परिजनों तक पहुंच जा सकाा।
अर्पण नायक, मनोचिकित्सक एवं सामाजिक कार्यकर्ता, मेंटल हॉस्पिटल अहमदाबाद

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned