महिला से सामूहिक बलात्कार

महिला से सामूहिक बलात्कार

Rajesh Bhatnagar | Publish: Oct, 13 2018 11:16:10 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

पांच पर मामला दर्ज

गांधीधाम. कच्छ जिले में नखत्राणा-कोटडा जडोदर मार्ग पर एक कॉम्प्लेक्स के कार्यालय में महिला से सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया है। पुलिस ने पांच आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया है।
सूत्रों के अनुसार मूल नखत्राणा तहसील के मोटी अरल व हाल में विराणी गांव निवासी 40 वर्षीया पीडि़ता महिला ने नखत्राणा पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया है। शिकायत के अनुसार करीब एक वर्ष पहले उसने वंदना मोहन आहीर से दुपहिया वाहन खरीदा था। उस समय वह वंदना के संपर्क में आई थी।
पिछली 10 अक्टूबर की रात करीब पौने नौ से साढ़े दस बजे के बीच पीडि़ता से बलात्कार किया गया। नखत्राणा तहसील के वंग गांव निवासी मोहन उमरा आहीर ने उसे कार में घर छोडऩे के लिए बिठाया और माता ना मढ़ जाने की बात कहकर जबरन कार में बिठाया। आरोपी मोहन उसे नखत्राणा-कोटडा जडोदर मार्ग पर एक पेट्रोल पंप के समीप स्थित कॉम्प्लेक्स के कार्यालय के एक कमरे में ले गया।
वहां उसने कथित तौर पर पीडि़ता महिला से बलात्कार किया। इसके बाद अन्य चार जनों को फोन कर बुलाया। करीब 25-30 वर्ष की आयु के चार जने बाइक से वहां पहुंचे और पीडि़ता महिला से सामूहिक बलात्कार किया। नखत्राणा पुलिस थाने के उप निरीक्षक एल.पी. बोडाण ने मामला दर्ज कर पांचों आरोपियों की खोजबीन शुरू की है।

बंद मकान से 7 लाख के जेवर चोरी
गांधीधाम. कच्छ जिले के मानकुवा गांव में एक मकान से 7 लाख रुपए के जेवर चोरी होने का मामला दर्ज कर पुलिस ने डॉग स्क्वॉड, एफएसल व फिंगर प्रिंट विशेषज्ञ की मदद से जांच शुरू की है।
सूत्रों के अनुसार मूल सणोसरा व हाल कच्छ जिले की भुज तहसील के मानकुवा निवासी रवजी सोमा रबारी ने मानकुवा पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया है। शिकायत के अनुसार चोरी की वारदात शुक्रवार मध्याह्न 12.30 से अपराह्न 2 बजे के बीच हुई।
पशुपालन का व्यवसाय करने वाला रवजी चारा लेने गया था, उस समय उसके बंद मकान को अज्ञात व्यक्तियों ने निशाना बनाया। मकान के दरवाजे का नकुचा तोडक़र भीतर प्रवेश कर लकड़ी की अलमारी से सोने-चांदी के जेवर चुराकर अज्ञात व्यक्ति फरार हो गए।
मानकुवा पुलिस थाने में मामला दर्ज कर प्रभारी निरीक्षक एम.एन. चौधरी ने डॉग स्क्वॉड, विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) के विशेषज्ञ व फिंगर प्रिंट विशेषज्ञ की मदद से जांच शुरू की है।

Ad Block is Banned