Navratra : शास्त्रीय संगीत के साथ गरबा खेलकर करती हैं माता की आराधना

Navratra : शास्त्रीय संगीत के साथ गरबा खेलकर करती हैं माता की आराधना
Navratra : शास्त्रीय संगीत के साथ गरबा खेलकर करती हैं माता की आराधना

Gyan Prakash Sharma | Updated: 06 Oct 2019, 03:50:16 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

९ से १८ वर्ष की किशोरी व युवतियां ही लेती हैं हिस्सा, Mahakali Mataji Garbi Mandal, Ahmedabad news, Gujrat news, Navratra, Garba

जामनगर. शहर के लिंडी बाजार में करीब ७५ वर्षों से महाकाली माताजी गरबी मंडल की ओर से आयोजित गरबे में आज भी शास्त्रीय संगीत के राग पर ९ से १८ वर्ष की किशोरी व युवतियां गरबा खेलकर माता की आराधना करती हैं। यहां हार्मोनियम, तलबा एवं वायोलिन के माध्यम से शास्त्रीय संगीत बजाकर गरबा खेला जाता है।


नवरात्र के दौरान रोजाना रात को मधुर संगीत के साथ गरबा खेला जाता है। इस गरबी का संचालन च-५ लोगों की ओर से किया जाता है, जिनमें मुख्य आयोजक महेश परमार, हार्मोनियम वादर नीतेशभाई, तबला वादक जयंत मिस्त्री एवं वायोलीन वादक मोहन चौहाण सुर मिलाते हैं। जयंत व मोहन की आयु ७५ वर्ष से भी अधिक है।

एक महीने करते हैं अभ्यास

इस गरबी में भाग लेने वाली २८-३० युवतियां नवरात्र से पूर्व एक महीने अभ्यास करती हैं, जिसमें पुराने गीत सिखाए जाए जाते हैं। प्रशिक्षण के बाद गरबा खेलने वाली ही गरबा गाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर देती हैं। शास्त्रीय संगीत आधारित गीत सीखने के लिए करीब चार वर्ष का समय लगता है। ऐसे में एक युवती दूसरी युवती को गीत सिखाती हैं।
गरबी की शुरुआत बलदेव भट्ट, मोहन जोशी, कल्याणभाई परमार, हरिप्रसाद एवं नीतेश परमार ने की थी। उनके शास्त्रीय संगीत के प्रति प्रेम को बनाए रखने के लिए आज भी यहां गरबा होते हैं। यहां पर खेलैयाओं से किसी प्रकार की फीस नहीं ली जाती है। संगीत के एक भी आधुनिक साधन का उपयोग किए बिना ही मात्र तबले की ताल एवं हार्मोनियम व वायोलिन के सुर संगीत बजाए जाते हैं। कोई गायक गरबा नहीं गाता है, अपितु खेलैया ही गाकर गरबा खेलती हैं।

गरबी का मुख्य उद्देश्य :

आयोजकों का कहना है कि आधुनिक युग में डीजे एवं अनेक नए गीतों के आने से शास्त्रीय संगीत के प्रति लोगों का लगाव कम हो रहा है, ऐसे में शास्त्रीय संगीत को बनाए रखने के लिए यह गरबा किया जाता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned