जीएसईबी का निर्णय: ९-१२वीं तक के पेपर में अब वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे ३० फीसदी

GSEB, 9-12th class, education, question, MCQ, paper, Ahmedabad, Gujarat १२वीं विज्ञान संकाय के पेपर में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों की संख्या ५० फीसदी ही रहेगी, राज्य सरकार ने पेपर व परीक्षा पद्धति के नए प्रारूप को दी मंजूरी

 

By: nagendra singh rathore

Published: 20 Nov 2020, 11:36 PM IST

अहमदाबाद. कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष स्कूलों में शैक्षणिक कार्य प्रभावित रहा है। उसे देखते हुए गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (जीएसईबी) ने विद्यार्थियों के हित में एक और अहम निर्णय किया है, जिसके तहत अब ९वीं, १०वीं, ११वीं सामान्य और विज्ञान संकाय तथा १२वीं सामान्य संकाय की परीक्षाओं के पेपर में ३० फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। जबकि ७० फीसदी प्रश्नों का जवाब लिखित में विस्तृत रूप से देना होगा। इससे पहले वस्तुनिष्ठ प्रश्नों का प्रतिशत २० फीसदी था। लेकिन कोरोना की परिस्थिति को देखते हुए पाठ्यक्रम में कमी भी की गई है उसे मद्देनजर रखते हुए पेपर के प्रारूप और पद्धति में भी बदलाव किया गया है।

१२वीं विज्ञान संकाय के पेपर में वस्तुनिष्ठ प्रश्न पहले की तरह ही ५० फीसदी पूछे जाएंगे। इसके अलावा ९-१२वीं कक्ष में प्रश्न पत्रों में विस्तृत प्रकार के प्रश्नों में इंटरनल विकल्प के बदले जनरल विकल्प दिया जाएगा यह परिवर्तन सिर्फ इसी वर्ष २०२०-२१ के लिए मान्य रखेगा।
जीएसईबी की ओर से पेपर और परीक्षा पद्धति के प्रारूप में बदलाव का प्रस्ताव मंजूरी के लिए राज्य सरकार के समक्ष भेजा गया था। जिसे सरकार ने मंजूरी दे दी है, जिसके बाद गुरुवार को जीएसईबी के संयुक्त निदेशक बीएन राजगोर ने इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी।
पाठ आधारित अंक, पेपर का विस्तृत प्रारूप जल्द होगा जारी
जीएसईबी ने इस वर्ष कोरोना के चलते पाठ्यक्रम में भी बदलाव किया है। उसमें ३० फीसदी तक कटौती की है। ऐसे में उसके आधार पर १०वीं, १२वीं कक्षा के पाठ आधारित अंक कितने रहेंगे और पेपर का प्रारूप क्या रहेगा। उसकी घोषणा जल्द की जाएगी
स्कूल स्तर की परीक्षाओं का पेपर खुद करना होगा तैयार
जीएसईबी ने घोषमा की है कि वर्ष २०२०-२१ के लिए ९-१२वीं कक्षा में स्कूल स्तर पर ली जाने वाली परीक्षाओं का पेपर स्कूलों को अपने स्तर पर ही तैयार करना होगा।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned