GST: जीएसटी पर पांच फीसदी आपदा सेस से उद्योगों को होगा भारी नुकसान, किसी भी तरह का टैक्स नहीं लगाए सरकार

GST, emergency cess, Gujarat, Industries, loss, Central govt

By: Uday Kumar Patel

Updated: 24 May 2020, 06:53 PM IST

उदय पटेल

अहमदाबाद. कोरोना वायरस से लडऩे के लिए अब केन्द्र सरकार जीएसटी पर पांच फीसदी आपदा सेस लगाने पर विचार कर रही है। इससे उद्योगों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ेगा।
कोरोना के कारण वैसे ही लोगों की नौकरियां जा रही हैं। लोगों की खरीदने की क्षमता कम हुई है। तब इस प्रकार का अतिरिक्त सेस लागू करना उद्योगों को फिर से उबारने में बाधक बनेगा।
न्यू क्लोथ मार्केट और मस्कती मार्केट के अध्यक्ष गौरांग भगत का कहना है कि कोरोना के कारण पहले ही उद्योगों की कमर टूटने की स्थिति है और ऐसे में केन्द्र सरकार के जीएसटी पर पांच प्रतिशत सेस लगाने से उद्योगों पर और ज्यादा दवाब बढ़ेगा। व्यापार को और ज्यादा नुकसान होगा। भगत का मानना है कि वर्तमान कोरोना संकट को देखते हुए सरकार को कोई नया कर नहीं लगाना चाहिए। इसकी बजाय इसे और हल्का करना चाहिए। फिलहाल सिर्फ बैंकिंग ट्रांजैक्शन टैक्स लगाना चाहिए। अभी लोगों ने सीएम फंड और पीएम केयर फंड में भी अपना योगदान दिया है। इसलिए कुछ महीनों के लिए केन्द्र व राज्य सरकार को टैक्स हटा लेने चाहिए जिससे किसी भी वर्ग को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

GST
Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned