स्टार्टअप को मदद करने के लिए जीटीयू ने जीवीएफएल से मिलाया हाथ

GTU, Startup, GVFL, Mou, mentoring, economically help, innovation -मार्गदर्शन से लेकर आर्थिक सहायता तक में होगा लाभ

By: nagendra singh rathore

Published: 11 Jun 2021, 09:53 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात तकनीकी विश्वविद्यालय (जीटीयू) ने अपने विद्यार्थियों के स्टार्टअप को आर्थिक मदद प्रदान करने के लिए गुजरात वेंचर फाइनेंस लिमिटेड (जीवीएफएल) के साथ हाथ मिलाया है।
जीटीयू के कुलसचिव डॉ के एन खरे और जीवीएफएल के प्रेसिडेंट मिहिर शाह ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं।
कुलपति डॉ. नवीन शेठ के अनुसार यह एमओयू स्टार्टअप में भाग्य आजमाने वाले विद्यार्थियों के लिए मार्गदर्शन पाने और आर्थिक मदद पाने का एक और द्वार खोलेगा।
जीवीएफएल की ओर से ग्रोथ के स्टेज पर पहुंचने वाले स्टार्टअप को उसके उत्पाद को जमीनी रूप देने के लिए जरूरत के अनुरूप ५० लाख रुपए से लेकर ५ करोड़ रुपए तक की आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी। इसके अलावा उस क्षेत्र से जुड़े उद्योग के एक्सपर्ट की ओर से जरूरी मार्गदर्शन भी दिया जाएगा, ताकि विद्यार्थी अपने स्टार्टअप को और भी बेहतर बना सके।
जीटीयू की ओर से अब तक ४०९ स्टार्टअप को ४.७५ करोड़ रुपए की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जा चुकी है। १४२ विद्यार्थियों की ओर से अपने उत्पाद की पेटेंट भी रजिस्टर कराने में जीटीयू मददरूप हुआ है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned