गुजरात सरकार के दरवाजे सभी समाज के लिए खुले: सौरभ

गुजरात सरकार के दरवाजे सभी समाज के लिए खुले: सौरभ

Uday Kumar Patel | Publish: Sep, 07 2018 10:45:07 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India


-हार्दिक-पास ने पाटीदार संस्थाओं के अग्रणियों का अपमान किया

 

अहमदाबाद. राज्य के कैबिनेट मंत्री सौरभ पटेल ने कहा है कि समाज के नाम पर राजनीति बंद होनी चाहिए। पाटीदार समुदाय को ओबीसी के तहत आरक्षण दिए जाने तथा किसानों की कर्ज माफी को लेकर गत 25 अगस्त से जारी हार्दिक पटेल के अनिश्चितकालीन उपवास को लेकर शुक्रवार को मीडिया से उन्होंने कहा कि बातचीत को लेकर राज्य सरकार के समक्ष सभी के लिए दरवाजे खुले हैं। आरक्षण के मुद्दे पर राज्य सरकार का रवैया पूरी तरह स्पष्ट है, लेकिन पास की ओर से कांग्रेस को पूछा जाना चाहिए कि विपक्ष भी अपना रवैया स्पष्ट करे। कांग्रेस यदि हार्दिक को समर्थन दे रही हो तो कांग्रेस का अपना पक्ष स्पष्ट करना चाहिए।
हार्दिक पटेल को अस्पताल में दाखिल किया जाने की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार पाटीदारों की ऊंझा के उमियाधाम, खोडलधाम सहित छह संस्थाओं से बातचीत के लिए तैयार थी। इसे लेकर इन संस्थाओं के प्रतिनिधि मंत्रियों से भी मिले थे, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण रूप से हार्दिक पटेल, मनोज पनारा व पास के उनके साथिोयों ने इन संस्थाओं के अग्रणियों का अपमान किया।
पटेल ने यह भी कहा कि पास की ओर से इस मुद्दे पर कभी चर्चा की मांग नहीं की गई। उल्लेखनीय है कि हार्दिक की ओर से बुधवार शाम को उनकी ओर से मांगों को लेकर राज्य सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया था। हार्दिक ने आरोप लगाया कि इस अवधि के पूरी यह अवधि पूरी होने के बावजूद अब तक राज्य सरकार की ओर से कुछ भी नहीं किया गया।

इससे पहले राज्य सरकार ने पाटीदार अनामत आंदोलन को कांग्रेस प्रेरित राजनीतिक आंदोलन करार दिया था। ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल ने मंगलवार को कहा था कि हार्दिक पटेल के उपवास आंदोलन को कांग्रेस समर्थन दे रही है। इतना ही नहीं, हार्दिक को मिलने वालों में कांग्रेसी ही हैं जो गुजरात विरोधी और नरेन्द्र मोदी विरोधी हैं।

Ad Block is Banned