राजकोट, वडोदरा और अहमदाबाद में सात टीपी स्कीम को मंजूरी

Uday Kumar Patel

Publish: Jul, 13 2018 11:01:56 PM (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
राजकोट, वडोदरा और अहमदाबाद में सात टीपी स्कीम को मंजूरी

-मुख्यमंत्री ने दी त्वरित कार्य करने की सूचना

-पिछले पांच महीने में मिली 50 डीपी-टीपी स्कीम को मंजूरी

 

गांधीनगर. राज्य सरकार ने राजकोट, वडोदरा और अहमदाबाद शहर के त्वरित एवं सुनियोजित विकास की दिशा में अहम कदम उठाते हुए राजकोट की वावड़ी, कोठारिया और मवड़ी की तीन प्रारंभिक टाउन प्लानिंग (टीपी) स्कीम, वडोदरा की सनाथल-नवापुर तथा सेवासी की ड्राफ्ट टीपी स्कीम और अहमदाबाद की वटवा एवं कड़ी की फाइनल टीपी स्कीम को मंजूरी दी है।
राज्य सरकार के शहरी विकास विभाग की ओर से कहा गया है कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने प्रशासन को त्वरित रूप से कार्य करने की सलाह दी है जिससे नागरिकों की सुख-सुविधा बढ़े और सार्वजनिक उद्देश्य के लिए प्राधिकरणों को प्लॉट मिल सके। पिछले पांच महीने में करीब 50 विकास योजना (डीपी)-टाउन प्लानिंग (टीपी) स्कीम को मंजूरी प्रदान कर शहरी क्षेत्रों में नागरिकों को अधिक बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के कार्यों में गति आई है।
शहरी क्षेत्रों में टाउन प्लानिंग स्कीम को तेजी से पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने राजकोट की तीन प्रारंभिक टीपी स्कीम को स्वीकृति दी है। इसके तहत करीब 310 हेक्टेयर में फैली इन तीन प्रिलिमनरी टीपी स्कीम से प्राधिकरण को सार्वजनिक उद्देश्य के लिए कुल 111 प्लॉट मिलेंगे जिनका कुल क्षेत्रफल लगभग 6,81,623 वर्गमीटर है।
राजकोट के कोठारिया में कुल 33 प्लॉट का क्षेत्रफल 1,65580 वर्गमीटर, वावड़ी में 27 प्लॉट का 2,25,711 वर्गमीटर और मवड़ी में 51 प्लॉट का क्षेत्रफल 2,83,332 वर्गमीटर है। इसमें बाग-बगीचे, खुली जगह, लोगों की सुख-सुविधा के लिए सार्वजनिक सुविधा के प्लॉट तथा सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों के लिए रिहाइशी प्लॉट का समावेश होता है। इससे बाग-बगीचों, जनसुविधा और पिछड़े वर्ग के लोगों के रहने के स्थल उपलब्ध होंगे। पिछले चार महीनों में राजकोट शहर की रैया सहित कुल चार प्रारंभिक टीपी स्कीम को मंजूरी दी गई है। जन केन्द्रित सकारात्मक दृष्टिकोण से काम करने की मुख्यमंत्री के निर्देश के कारण पिछले पांच महीने में करीब 50 डीपी-टीपी स्कीम को मंजूरी प्रदान कर शहरी इलाकों में लोगों की परेशानी दूर करने की कोशिश की गई है।


Ad Block is Banned