Gujarat: 96 फ़ीसदी संक्रमित फेफड़े के बावजूद प्रौढ़ महिला ने कोरोना को दी मात

Gujarat, 96 % lungs infection, Godhra, Corona

By: Uday Kumar Patel

Published: 20 May 2021, 10:20 PM IST

संतोष जैन/राजेश दुबे

दाहोद. कोरोना संक्रमण होने पर एचआरसीटी परीक्षण से यह पता चलता है कि फेफड़े कितने संक्रमित हैं। हालांकि स्कोर ज्यादा आने पर लोग घबरा जाते हैं। उच्च स्कोर के बावजूद, समय पर उपचार के साथ वसूली संभव है और कई रोगी इस तरह से ठीक हो रहे हैं।
ऐसे ही एक अत्यंत दुर्लभ मामलों में फेफड़़े में 96 फ़ीसदी संक्रमण के बावजूद एक प्रौढ़ महिला ने कोरोना को मात दी।
कोरोना संक्रमित मरीज रक्षाबेन सुथार (51) को पंचमहाल जिले के मुख्यालय गोधरा के सरकारी सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। तब उनका एचआरसीटी स्कोर 24 था, ऑक्सीजन लेवल 70 था।
उसे तुरंत ऑक्सीजन देने की शुरुआत की गई।
चिकित्सकों की सघन देखरेख और अस्पताल के अन्य स्टाफ की ओर से मनोबल बनाए रखने से रक्षाबेन ने कोरोना को मात दी।
फिजिशियन डॉ. ईशान मोदी ने कहा कि रक्षाबेन को एचआरसीटी स्कोर 24 पर गत 1 मई को भर्ती कराया गया था। प्रति मिनट 15 लीटर ऑक्सीजन देना शुरू कर दिया गया। मरीज की हालत गंभीर थी। लेकिन उसे रेमेडसिविर, मानक एंटीबायोटिक्स, स्टेरॉयड सहित दवाएं दी गई। एक सप्ताह तक हफ्तों हालत स्थिर रहने के बाद स्वास्थ्य में सुधार होना शुरु हुआ। अब बिना ऑक्सीजन सपोर्ट के एसपीओ वीटू स्तर 94 तक पहुंच गया है। सभी रिपोर्ट सामान्य आने के पश्चात 18 वें दिन उसे छुट्टी दे दी गई।
रक्षाबेन के पति दीपक भाई सुथार का कहना है कि शुरुआत में खांसी और कमजोरी के लक्षण दिखाई देने के पश्चात उन्हें यहां पर डॉक्टरों से जांच कराई गई। एक स्थानीय डॉक्टर के कहने पर सीटी स्कैन कराया और रिपोर्ट आने पर वे चौंक पड़े। मरीज का फेफड़ा 96त्न संक्रमित था। डॉक्टर और कुछ रिश्तेदारों की सलाह पर रक्षाबेन को सिविल अस्पताल ले जाया गया। चिकित्सकों व अन्य स्टाफ की ओर से विकट परिस्थितियों में रक्षा का उपचार किया गया।
भोजन और दवा के साथ ही यहां की नर्सों का व्यवहार भी बहुत ही अच्छा था। कभी-कभी यहां का स्टाफ उनका मनोबल भी बढ़ाता था। अस्पताल से छुट्टी मिलने पर रक्षाबेन ने कहा कि वे यहां के डॉक्टरों और स्टाफ के सभी सदस्यों की पूरी जिंदगी ऋणी रहेंगी। डॉक्टरों का कहना है कि गुजरात में संभवत: इस प्रकार का यह मामला है।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned