Gujarat: उपचार के लिए सीएचसी, पीएचसी, अस्पताल जाने से मुक्ति

Gujarat, CHC, PHC, Hospital, treatment

By: Uday Kumar Patel

Updated: 08 Oct 2020, 11:16 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात में गुरुवार से ई-संजीवनी ओपीडी सेवा का शुभारंभ किया गया। उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि ई-युग में जिस तरह वित्तीय लेनदेन, नगरों और महानगरों के टैक्स सहित अन्य सेवाएं ऑनलाइन हैं, उसी तरह अब जन-जन के स्वास्थ्य कल्याण की यह सेवा भी ‘एट वन क्लिक’ यानी उंगली के इशारे पर घर बैठे उपलब्ध हो सकेगी।
इससे दूरदराज के गांवों में रहने वाले मरीजों का इस एप के जरिए अपने घर बैठे ही निदान और उपचार हो सकेगा। उन्होंने कहा कि उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) या प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) या फिर अस्पताल जाने से मुक्ति मिलेगी। इस एप के माध्यम से ऐसी व्यवस्था विकसित की गई है कि डॉक्टर योग्य निदान कर आवश्यकता पडऩे पर विशेषज्ञ डॉक्टरों की भी सलाह प्राप्त कर उसके अनुसार आगे का उपचार कर सकेंगे।
पटेल ने कहा कि फोन पर डायग्नोसिस सुविधा प्रदान करने वाली यह सेवा स्वास्थ्य क्षेत्र में आधुनिक टेक्नोलॉजी के उपयोग और टेलीमेडिसिन का एक अनूठा उदाहरण है। उन्होंने भविष्य में इस सेवा का दायरा मेडिकल कॉलेजों तक बढ़ाकर युवा डॉक्टरों को भी उससे जोडऩे की मंशा व्यक्त की।
इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव डॉ. जयंती रवि और वरिष्ठ अधिकारी गांधीनगर से जबकि जिला कलक्टर और जिला विकास अधिकारी संबंधित जिलों से कार्यक्रम में जुड़े।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned