Gujarat: गुजरात की तटों से चरस की जप्ती नया ट्रेंड

Gujarat, coast, Charas, seizure, creek, BSF, Pakistan

By: Uday Kumar Patel

Published: 13 Aug 2020, 11:31 PM IST

अहमदाबाद. बीएसएफ, पुलिस, तटरक्षक बल व भारतीय नौ सेना ने साथ मिलकर मिलकर गत लगभग चार महीने में गुजरात में क्रीक व जखौ तट से चरस के एक-एक किलोग्राम के 1309 पैकेट जप्त किए हैं। बीएसएफ केे अनुसार चरस पैकेट की जप्ती एक नया ट्रेंड है जो राज्य में कार्यरत सभी सुरक्षा एजेंसियों के लिए चिंता का कारण हैं।

गुजरात तट के पास जप्त किए गए ड्रग्स और पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों की ओर से जप्त ड्रग्स कै पैकेट एक ही प्रकार के हैं। समुद्र में फेंके गए पैकेट भारतीय तट पर जखौ की ओर आए और तटों पर बिखरे पाए गए।
बीएसएफ के मुताबिक गुजरात की तटों से चरस की जप्ती एक नया ट्रेंड है। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों की ओर से गुजरात तट पर हेरोइन जप्त की जा चुकी है। पाकिस्तानी तस्करों की ओर से अरब सागर के मार्फत भारी मात्रा में नारकोट्किस के व्यापार के कारण गुजरात तट के इस्तेमाल की संभावना को नकारा नहीं जा सकता। इसलिए सुरक्षा एजेंसियों ने गुजरात तट व क्रीक इलाके में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है।

गत एक वर्ष के दौरान पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों ने कराची में अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा (आईएमबीएल) के पास गहरे समुद्र में मादक पदार्थों की जप्ती के लिए लगातार ऑपरेशन किए थे। इसमें 22 हजार मिलियन पाकिस्तानी रुपए से ज्यादा की मूल्य के 11 हजार किलोग्राम हेरोइन, हशीश, ब्राउन क्रिस्टल, सिंथेटिक हेरोइन व अफीम की जप्ती की गई। पाक एजेंसियों ने कराची में आईएमबीएल के पास मादक पदार्थों को ले जाने वाली नौकाओं पर छापा मारा, तब कुछ ड्रग्स तस्करों ने गिरफ्तारी से बचने के लिए अपनी बोट से यह चरस के पैकेट समुद्र में फेंक दिए थे।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned