सरकार की घोषणा के बाद भी मा कार्ड पर उपचार से इनकार !

Gujarat, corona, Pvt hospital, MA card, No benefit, MLA Gyasuddin shaikh, CM, AHNA, विधायक ग्यासुद्दीन शेख का आरोप

By: nagendra singh rathore

Published: 15 May 2021, 04:07 PM IST

अहमदाबाद. कांग्रेस के दरियापुर से विधायक ग्यासुद्दीन शेख ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार की ओर से दो दिन पहले घोषणा करने के बाद भी अहमदाबाद सहित राज्य के निजी कोविड अस्पतालों में लोगों को मा वात्सल्य कार्ड और मा अमृतम कार्ड के तहत उपचार का लाभ नहीं मिल रहा है। निजी अस्पताल ही नहीं बल्कि कोविड उपचार से जुड़े ट्रस्ट और ग्रांट इन एड अस्पताल तक इसके तहत उपचार का लाभ देने से मरीजों के परिजनों को इनकार कर रहे हैं।
ये स्थिति तब है जब दो दिन पहले सरकार ने घोषणा की है कि कोविड मरीज को अस्पतालों में प्रति दिन पांच हजार की मर्यादा में 10 दिन तक मा वात्सल्य और मा अमृमत कार्ड पर उपचार का लाभ दिया जाएगा। इसके बावजूद भी निजी अस्पताल इस कार्ड के तहत भर्ती करने और लाभ देने से इनकार कर रहे हैं। ऐसे में उनकी राज्य सरकार से मांग है कि वे इन कार्ड धारकों को कोविड का उपचार का लाभ देने का स्पष्ट आदेश जारी करे ताकि किसी को जान गंवाने की नौबत न आए। नोडल अधिकारी भी नियुक्त करे। इसकोलेकर पत्र भी लिखा है।
दरअसल 12 मई को सरकार ने इसके लिए जो परिपत्र जारी किया है उसमें और उससे पहले जारी निर्देश और तय किए गए प्रतिदिन के चार्ज में काफी अंतर है। जिसके चलते निजी अस्पताल इस योजना के तहत मरीज को भर्ती करने से आनाकानी कर रहे हैं। शेख ने कहा कि सरकार को आहना सरीखे संगठनों से इस बारे में बात करके, चार्ज को लेकर उनकी चिंता का सामाधान कर गरीबों को लाभ मिले ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए।
12 मई से पहले निजी अस्पतालों में सरकार की ओर से आईसोलेशन बेड का प्रतिदिन का चार्ज ८१०० रुपए था, एचडीयू का ११३०० रुपए आईसीयू वेंटिलेटर बिना का १६२०० और आईसीयू वेङ्क्षटलेटर के साथ १९६०० रुपए था।
12 मई को जारी परिपत्र में 12 मई से एनएबीएच वाले अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड का प्रतिदिन का चार्ज दो हजार, बिना एनएबीएच वाले का १८०० रुपए। एचडीयू का एनएबीएच वाले हॉस्पिटल के लिए तीन हजार, बिना एनएबीएच मान्यता वाले के लिए २७००, एनएबीएच वाले के लिए आईसीयू वेंटिलेटर बिना के लिए प्रतिदिन चार्ज ४००० रुपए, बिना एनएबीएच वाले के लिए ३६०० रुपए बकि आईसीयू वेङ्क्षटलेटर बेड के एनएबीएच हॉस्पिटल के लिए ५००० रुपए प्रतिदिन जबकि बिना एनएबीएच वाले हॉस्पिटल में ४५०० रुपए चार्ज तय किया है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned