scriptGujarat Education System | Gujarat Education System कीचड़ से लथपथ पैर लेकर यहां के मासूम करने जाते हैं पढ़ाई | Patrika News

Gujarat Education System कीचड़ से लथपथ पैर लेकर यहां के मासूम करने जाते हैं पढ़ाई

  • कीचड़ भरे रास्ते से स्कूल जाते हैं मासूम
  • आजादी के 74 साल बाद भी बुनियादी सुविधा को मोहताज

अहमदाबाद

Published: August 01, 2022 03:25:29 pm

आणंद. राज्य में एक्सप्रेस हाइवे और बुलेट ट्रेन के साकार हो रहे सपने के बीच कुछ ऐसे भी गांव हैं जहां पक्की सड़क लोगों के लिए आजादी के 74 साल बाद भी सपना के समान है। आणंद जिले की तारापुर तहसील के रेल ग्राम पंचायत के अधीन विजयपुरा गांव में करीब 200 परिवार रहता है। इनका मुख्य व्यवसाय खेती और मजदूरी करना है। इस गांव के नसीब में आज तक पक्की सड़क नहीं मिली है। इसके कारण लोगों को बारिश के मौसम में कीचड़ से सने रास्तों से होकर जाना विवशता होती है। इस गांव के बच्चों को भी इसी पानी-मिट्टी से सने रास्तों से होकर स्कूल जाना पड़ता है। इस गांव के करीब 22 विद्यार्थी दो किलोमीटर दूर रेल गांव के प्राथमिक स्कूल में पढ़ते हैं।


Gujarat Education System कीचड़ से लथपथ पैर लेकर यहां के मासूम करने जाते हैं पढ़ाई
Gujarat Education System कीचड़ से लथपथ पैर लेकर यहां के मासूम करने जाते हैं पढ़ाई
गांव में जब कोई बीमार हो जाता है, या किसी महिला की प्रसूति का समय आता है तो लोगों के सामने विकट परिस्थिति पैदा हो जाती है। गांव में एम्बुलेंस पहुंंचना संभव नहीं है, इससे लोग किसी तरह मरीज या महिला को गांव के बाहर तक लाते हैं, फिर उसे किसी वाहन के जरिए अस्पताल भेजा जाता है। इस वजह से मानसून के चार महीने काटना इस गांव के लोगों के लिए कठिन हो जाता है।
Gujarat Education System कीचड़ से लथपथ पैर लेकर यहां के मासूम करने जाते हैं पढ़ाईडेढ़ से दो घंटे में पहुंचते हैं स्कूल
विद्यार्थी अर्जुन सिंह कहते हैं कि स्कूल जाने के रास्ते में कीचड़ होने से उसे डेढ से दो घंटे चलकर किसी तरह स्कूल पहुंचना पड़ता है। इसलिए समय पर स्कूल पहुंचने के लिए वह सुबह आठ बजे ही घर से निकल जाता है। नलीरेल प्राथमिक स्कूल के प्राधानाचार्य प्रभातसिंह ने बताया कि विजयपुरा से नवीरेल गांव के रास्ता खस्ताहाल है। वर्षों से यह रास्ता कच्चा ही है। विजयपुरा के कक्षा 7 का विद्यार्थी रोहित ने बताया कि दो किलोमीटर कच्चे रास्ते में जाने के दौरान उसके कपड़े खराब हो जाते हैं। गांव की वृद्ध महिला नानी ने बताया कि कीचड़ में चलने से पैर फिसलता है, लोग गिर कर जख्मी हो जाते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar News: तेज प्रताप भी बन सकते हैं मंत्री, बिहार में 16 अगस्त को मंत्रिमंडल विस्तारBilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.