Ahmedabad News सरकारी कर्मचारियों को अब नहीं मिलेगी यात्रा, त्योहार, अवकाश वेतन की पेशगी

Gujarat goverment, advance, stop, finance department, circular, goverment employee गुजरात सरकार ने नए साल से 10 पेशगी की बंद

 

By: nagendra singh rathore

Updated: 03 Jan 2020, 09:33 PM IST

गांधीनगर. गुजरात सरकार की ओर से सरकारी कर्मचारियों को दी जाने वाली यात्रा भत्ता, त्योहार, अवकाश वेतन की अग्रिम राशि (पेशगी) नहीं मिलेगी। गुजरात सरकार ने नववर्ष २०२० से सरकारी कर्मचारियों को 10 पेशगी की सुविधा नहीं देने का निर्णय किया है। इसे रद्द करने से जुड़ा परिपत्र भी वित्त विभाग की ओर से जारी कर दिया गया है। इसके चलते चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में नाराजगी भी देखने को मिल रही है। विशेषकर ड्राइवर, सफाईकर्मी, लाइटमैन सरीखे कर्मचारी शामिल हैं। वित्त विभाग के वर्ष १९७१ के नियमों के तहत विभिन्न प्रकार की पेशगी दी जाती थीं।
जारी किए गए परिपत्र में जिन अग्रिम राशियों (पेशगियों) को रद्द किया गया है उनमें साइकिल की खरीदी के लिए दी जाने वाली अग्रिम राशि (पेशगी), पंखा खरीदने के लिए दी जाने वाली पेशगी, राशन खरीदने के लिए दी जाने वाली अनाज पेशगी, त्योहार पेशगी, अवकाश वेतन की पेशगी शामिल है। इसके अलावा कर्मचारी के नौकरी पर मृत्यु होने की स्थिति में उनके परिजनों को दी जाने वाली आर्थिक मदद की पेशगी को भी रद्द कर दिया गया है। नौकरी पर मृत्यु होने वाले कर्मचारियों के परिजनों को उनके मूल गांव जाने के लिए दी जाने वाली यात्रा के खर्च की पेशगी भी रद्द कर दी है। इसके अलावा स्थानांतरण के समय दी जाने वाली पेशगी, यात्रा भत्ता पेशगी और विभागीय कार्यों के लिए दी जाने वाली पेशगी को भी अब बंद कर दिया गया है।
गुजरात सरकार की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि इसमें से ज्यादातर पेशगी का लाभ कर्मचारी लेते ही नहीं है। ऐसे में इनके लिए आवंटित बजट खर्च ही नहीं होता, जबकि बजट में राशि का प्रावधान करना पड़ता है। इसके अलावा सातवां वेतन आयोग लागू होने के चलते वेतन बढ़ा है। ऐसे में कई पेशगी के लिए अब स्थान ही नहीं है। ऑडिट में इस प्रकार की बातें भी ध्यान में आई हैं, जिसे देखते हुए सरकार ने इन पेशगी को रदद कर दिया है।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned