Gujarat: तीन दोस्तों ने मिलकर अपने गांव में लगाए 3 हजार पेड़, आज पूरे गांव में हरियाली

Gujarat, Junagarh, Greenary, Khorasa village, three friends

By: Uday Kumar Patel

Published: 22 Jul 2021, 11:23 PM IST

जूनागढ़. जिले में तिरुपति मंदिर से प्रसिद्ध खोरासा (आहीर) गांव के तीन दोस्तों ने पर्यावरण से विशेष लगाव के चलते साबली डैम के पास स्थित हनुमान मंदिर के परिसर में २०० से अधिक पेड़ लगाकर पूरे परिसर को हरा भरा करने का जिम्मा उठाया है।

बटुक चावड़ा, कमलेश लुहार व रमेश भरवाड़ की ओर से एक साथ मिलकर कुछ वर्ष पहले लगाए गए नीम, आम, पीपल, के पेड़ मंदिर परिसर की सुंदरता में चार चाँद लगा रहे है। ये दोस्त गांव के श्मशान, बंजर एवं खाली जमीनों पर पौधे लगाने का काम कर रहे है।
बटुक पौधरोपण के मुख्य अग्रदूत हैं। कमलेश एवं रमेश भरवाड़ के साथ मिलकर तीनों वृक्ष प्रेमी दोस्त खोरासा गांव के श्मशान, एवं खाली जमीनों का चयन कर अब तक 3,000 से अधिक पेड़ लगा चुके है। वहीं इनके ओर से लगाए गए पौधे आज वट वृक्ष का रूप ले चुके है। इनकी सार्थक सोच के साथ गांव के अन्य लोग भी जुड़ रहे हैं।
बटुक को वृक्षों से बेहद लगाव है। वे बताते है कि उन्होंने वन विभाग की नर्सरी से पौधे प्राप्त किया और वन विभाग पौधे लगाने के लिए गड्ढा बनाने में सहयोग किया। गर्मियों में पौधोंको जीवित रखने के लिए नियमित पानी दिया गया। चार से पांच वर्ष तक पेड़ों को जानवरों से बचाया गया और जहां कभी श्मशान घाट एवं मंदिर की जमीनें बंजर पड़ी रहती थीं वहां चारों ओर अब हरियाली है।
---

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned