केबिनेट मंत्री बावलिया बोले-संवेदनशील मुद्दा, करेंगे समाधान के प्रयास

केबिनेट मंत्री बावलिया बोले-संवेदनशील मुद्दा, करेंगे समाधान के प्रयास

nagendra singh rathore | Publish: Sep, 02 2018 11:05:32 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

नौवें दिन सरकार से किसी मंत्री ने दिखाया सकारात्मक रुख

अहमदाबाद. हार्दिक पटेल के अनशन पर बैठने के नौवें दिन आखिरकार गुजरात सरकार के केबिनेट मंत्री कुंवरजी बावलिया का सकारात्मक बयान सामने आया है। बावलिया ने संवाददाताओं की ओर से पूछे सवाल पर कहा कि हार्दिक की मांगों का मुद्दा काफी संवेदनशील है। वह इस मामले के जल्द सुलझने की अपेक्षा रखते हैं। इसके लिए वह भी कोशिश करेंगे ताकि सरकार और आंदोलनकारियों के बीच समाधान हो सके।
बावलिया के इस बयान पर पाटीदारों की ओर से मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली है। कुछ पास के संयोजकों ने इसकी सराहना की है, जबकि कुछ ने इसे राजकोट में चुनावों के चलते बदला रुख बताया है।

हार्दिक से मिलने को लाइन, घर के बाहर समर्थकों पर लाठीचार्ज
अहमदाबाद. हार्दिक के अनशन के नौवें दिन रविवार को उनसे मिलने को समर्थक बड़ी संख्या में पहुंचे। ग्रीनवुड रिसोर्ट के मुख्य प्रवेश द्वार पर लोगों की लंबी कतार देखने को मिली। पुलिस का रुख रविवार को थोड़ा नरम दिखाई दिया। वह लोगों का नाम, पता, मोबाइल नंबर, वाहन नंबर दर्ज करने के बाद उन्हें हार्दिक से मिलने जाने की मंजूरी दे रही थी। इस बीच बड़ी संख्या में समर्थकों के पहुंच जाने से पुलिस ने समर्थकों पर लाठीचार्ज भी किया। राज्यभर से आ रहे समर्थकों को हिरासत में भी लिया गया।
इसके चलते हार्दिक ने नाराजगी जताते हुए सोला सिविल अस्पताल की मेडिकल टीम को अपने स्वास्थ्य की जांच नहीं करने दी। उन्होंने बयान जारी कर कहा कि 'मेरे निवास स्थान पर आए लोगों पर जुल्म और लाठीचार्ज बंद नहीं होगा तब तक वे सरकारी या अन्य किसी भी डॉक्टर से मेडिकल जांच नहीं कराएंगे। प्रदेश से आए किसानों पर लाठीचार्ज किया। गाडिय़ां जब्त की जा रही हैं। डर का माहौल खड़ा किया जा रहा है। गांधी और सरदार का गुजरात लाचार होता जा रहा है।
सोला सिविल के डॉ. प्रवीण सोलंकी ने मीडिया को बताया कि हार्दिक ने स्वास्थ्य जांच व टेस्ट कराने से इनकार कर दिया। सुबह के समय स्वास्थ्य जांच की थी। उस समय ६०० ग्राम वजन में गिरावट की बात कही थी। जी मचलाने, चक्कर आने की शिकायत कही थी। ब्लड और यूरिन शाम को देने की बात कही थी। मेडिकल टीम ने उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी है। हार्दिक की किडनी में इन्फ्केशन होने की बात भी उनके निजी चिकित्सक ने कही है, जिससे उनकी हालत और बिगड़ रही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned