गुजरात की एफडीआई हासिल करने की उपलब्धि अद्वितीय: राजीव कुमार

Gujarat, Niti Aayog, Rajiv kumar, FDI, CM Vijay rupani मुख्यमंत्री की नीति आयोग उपाध्यक्ष के साथ बैठक, कृषि, ऊर्जा, ग्रामीण विकास, जल प्रबंधन व सिंचाई क्रियान्वयन योजनाएं संतोषजनक

By: nagendra singh rathore

Published: 07 Sep 2021, 10:01 PM IST

अहमदाबाद. नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ.राजीव कुमार ने कहा कि गुजरात ने प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) हासिल करने के मामले में जो अद्वितीय उपलब्धि हासिल की है, उसकी तुलना अब दुनिया के विकसित देशों के प्रदेशों के साथ होनी चाहिए।
नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. कुमार ने अपने गुजरात दौरे के दौरान मंगलवार सुबह मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उप मुख्यमंत्री नितिनभाई पटेल और वरिष्ठ सचिवों के साथ गांधीनगर में अहम बैठक की।
मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बैठक में नीति आयोग के उपाध्यक्ष को राज्य सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रम मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना, मेट्रो रेल प्रोजेक्ट, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, जलापूर्ति और डिजिटल सेवा सेतु सहित अन्य क्षेत्रों में विकास कार्यों की उपलब्धियों से अवगत कराया। कोविड महामारी के दौरान किए गए गहन स्वास्थ्य उन्मुख कार्यों से राज्य में कोरोना संक्रमण की नियंत्रित स्थिति की भी जानकारी दी।
नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने गुजरात सरकार की कृषि, ऊर्जा, ग्रामीण विकास, जल प्रबंधन और सिंचाई योजनाओं के प्रभावी कार्यान्वयन पर संतोष जताया।
बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के. कैलाशनाथन, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव एम.के. दास, सचिव अश्विनी कुमार, अतिरिक्त मुख्य सचिव (शहरी विकास) मुकेश पुरी, अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व) कमल दयानी, अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) मनोज अग्रवाल, प्रधान सचिव (उच्च शिक्षा) एस.जे. हैदर, प्रधान सचिव (ऊर्जा) ममता वर्मा, सचिव (ग्राम विकास) सोनल मिश्रा, सचिव (कृषि) मनीष भारद्वाज, सचिव (जलापूर्ति) धनंजय द्विवेदी, सचिव (प्राथमिक शिक्षा) डॉ. विनोद राव, सचिव (योजना) राकेश शंकर, सचिव (विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी) विजय नेहरा, सचिव (सिंचाई) एम.के. जादव और सचिव (पशुपालन) नलिन बी. उपाध्याय भी उपस्थित थे।

सीएम डैशबोर्ड से निगरानी को सराहा
उन्होंने मुख्यमंत्री निवास स्थान पर स्थित सीएम डैशबोर्ड के माध्यम से होने वाले डिजिटल गवर्नेंस के कामकाज और राज्य सरकार के सभी विभागों के कार्यों की रियल टाइम निगरानी को भी सराहा। राज्य सरकार की धोलेरा विशेष निवेश क्षेत्र (एसआईआर-सर) को सिंगापुर से भी बड़ी स्मार्ट सिटी बनाने की योजना एवं गांधीनगर इंटरनेशनल फाइनेंस टेक-सिटी (गिफ्ट सिटी) की सराहना की।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned