Gujarat : विश्व का प्रवेश द्वार बना गुजरात, नीति आयोग के ईपीआई-2020 में अव्वल

Gujarat, Niti ayog, world gate way, EPI-2020

By: Uday Kumar Patel

Updated: 26 Aug 2020, 09:38 PM IST

अहमदाबाद. नीति आयोग की बुधवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार ‘निर्यात तत्परता सूचकांक 2020’ (एक्सपोर्ट प्रीपेयर्डनेस इंडेक्स) में गुजरात ने देशभर में शीर्ष स्थान प्राप्त कर गौरवशाली उपलब्धि हासिल की है।

राज्य के 1600 किलोमीटर का लंबा समुद्री किनारा सामुद्रिक वैश्विक व्यापार के लिए विश्व का प्रवेश द्वार (गेटवे टू द वल्र्ड) बना है। 48 बंदरगाह के साथ देश के कुल निर्यात का 20 फीसदी हिस्सा सिर्फ गुजरात देता है। इतना ही नहीं, राज्य विश्व के 180 से ज्यादा देशों में माल व सेवाओं की जरूरतें पूरी करता है।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की ओर से गत दिनों घोषित नई उद्योग नीति -2020 में भी 100 फीसदी निर्यात के अनुकूल यूनिट को मुख्य सेक्टर के रूप में चिन्हित किया गया है।

कुल कार्गो वहन क्षमता का 40 फीसदी

देश के कुल कार्गो वहन क्षमता का 40 फीसदी गुजरात वहन करता है। भारत का सबसे बड़ा कॉमर्शियल बंदरगाह मुंद्रा भी यहीं है। यहां पर विशालकाय कंटेनर जहाजों के आवागमन से गुजरात के कार्गो वहन क्षमता को अग्रिमता हासिल है। विश्व के 500 फॉच्र्यून कंपनियों में से करीब 60 कंपनियां अपने राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय कारोबार के लिए गुजरात का चयन किया है।
गुजरात लगातार दो वर्षों तक लीडस (लॉजिस्ट्क्सि इज अक्रॉस डिफरेंट स्टेटस) में भी प्रथम स्थान प्राप्त कर चुका है।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned