Gujrat police: 'डीजीपी पदक' देने वाला गुजरात देश का सातवां राज्य

Gujarat police, DGP, police officers, covid-19, police medals, president: गुजरात पुलिस की हौसला आफजाई...

By: Pushpendra Rajput

Published: 27 Jul 2020, 09:16 PM IST

गांधीनगर. चाहे कोरोना महामारी हो, त्योहार हो, आंदोलन हो या फिर कानून-व्यवस्था (law & order)  संभालना हो हमेशा मुस्तैद रहने वाली पुलिस को सोमवार को गुजरात के पुलिस महानिदेशक (DGP) शिवानंद झा ने उलेखनीय कार्य करने वाले 110 पुलिस अधिकारियों को 'डीजीपी पदकÓ (DGP medal) से सम्मानित किया। गुजरात देश का ऐसा सातवां राज्य हैं, जिनसे डीजीपी पदक से अपने पुलिसकर्मियों की हौसला आफजाई की।
गांधीनगर में कराई स्थित गुजरात पुलिस अकादमी के ऑडिटोरियम में पुलिस अधिकारियों को पदक से सम्मानित करने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें 110 पुलिस अधिकारियों को  सम्मानित किया गया। सोशल डिस्टेसिंग (social distancing) बनाकर अलग-अलग टीम में अधिकारी मौजूद थे, जिन्हें पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने पदक (medal)और प्रमाणपत्र  (certificate) प्रदान किए। कोविड-19 महामारी के चलते कार्यक्रम किसी भी अतिथि या पुलिस अधिकारियों के परिजन मौजूद नहीं थे। जो 110 पदक दिए गए हैं उनमें दो अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, पांच महानिरीक्षक, एक उप महानिरीक्षक, छह पुलिस अधीक्षक, 16 पुलिस निरीक्षक, 10 पुलिस उप निरीक्षक, दस सहायक उप निरीक्षक, 22 हेड कांस्टेबल और 22 कांस्टेबल शामिल हैं। पदक हासिल करने वाले पुलिस अधिकारियों को पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने बधाई दी और विश्वास जताया कि भविष्य भी पुलिस बेहतर सेवा देकर राज्य और देश का गौरव बढ़ाएं।
इस मौके पर केयू बैण्ड धुन पर पुलिसकर्मियों का उत्साह बढ़ाया है। यह कार्यक्रम विडियो कांफ्रेसिंग के जरिए राज्य के सभी शहरों, जिला और महानिरीक्षक कार्यालय तथा पुलिस स्टेशन समेत सभी इकाइयों में प्रसारित किया गया, जिसे सभी संवर्ग के पुलिस अधिकारियों ने देखा।

मौजूदा समय में देश के असम, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, केरला जैसे राज्य और सीमा सुरक्षा बल एवं केन्द्रीय रिजर्व सुरक्षा बल (CRPF) जैसे अद्र्धसैनिक बल इन पदकों से जवानों को सम्मानित करते हैं। अब पुलिस अधिकारियों को डीजीपी पदक से सम्मानित करनेवाला गुजरात देश का सातवां राज्य बन गया है।
बेहतर कार्य करनेवाले पुलिस कर्मियों और अधिकारियों सम्मानित किया जाता है। पुलिस अधिकारियों की निष्ठा को समाज में एक अलग पहचान दिलाने के लिए कोई विधिवत सम्मान हो। इसके लिए राज्य के पुलिस महानिदेशक काफी समय से मन बनाए थे। अब तक पुलिस अधिकारियों के लिए देश के राष्ट्रपति की ओर से विशिष्ट सेवा मंडल और प्रशंसनीय मेडल के अलावा अन्य कोई भी अवार्ड, पदक या सम्मान नहीं दिया जाता था। राष्ट्रपति की ओर से दिए जाने वाले पदकों की संख्या की तुलना में पुलिस जवानों की संख्या काफी ज्यादा है। कई बार सभी योग्य पुलिस अधिकारियों को मेडल से सम्मानित नहीं पाते।

'डीजीपी कमाण्डेशन डिस्कÓ भी दी जाएगी

इन पदकों के अलावा आगामी समय में गुजरात पुलिस दल में बेहतर कार्य करनेवाले पुलिस अधिकारियों को 'डीजीपी कमाण्डेशन डिस्कÓ से भी सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार के पास प्रस्ताव भेजा गया था। गृह विभाग ने 'कमाण्डेशन डिस्कÓ सम्मान को अधिकृत तौर पर मंजूरी दे दी है। इसके जरिए अब किसी भी संवर्ग के पुलिस अधिकारियों को एक से ज्यादा बार भी ये पदक दिए जा सकेंगे। पहली बार पदक हासिल करने वाले को सिलव्र और दूसरी बार यह सम्मान पाने वाले को गोल्डन पदक दिया जाएगा। यह पदक पुलिस अधिकारी अपने यूनिफार्म पर लगा सकेंगे।

COVID-19
Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned