VIDEO: गुजरात के 10 जिलों में हुई बारिश, आगामी तीन दिन भारी बारिश के आसार

Gujarat, Rain, Monsoon, IMD, 3 day Heavy rain, NDRF, SDRF नर्मदा के डेडियापाडा में सर्वाधिक 58 मिलीमीटर गिरा पानी, -मौसम विभाग ने दी सौराष्ट्र-दक्षिण गुजरात में अति भारी बारिश की चेतावनी राज्य में अब तक हुई है मौसम की 427.06 मिलीमीटर बारिश, तीस सालों के औसत के लिहाज से 50 फीसदी ही बरसात

By: nagendra singh rathore

Published: 07 Sep 2021, 09:54 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात में इस वर्ष मानसून में बारिश की बेरुखी का दौर कुछ दिनों में दूर होने की संभावना जताई जा रही है। मंगलवार को राज्य के 10 जिलों की 28 तहसीलों में बारिश हुई। मौसम विभाग की मानें तो आगामी तीन दिन राज्य में भारी बारिश की संभावना है। उसमें भी सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में तो भारी से अति भारी बारिश हो सकती है। जिससे राज्य के कई जिलों में छा रहा सूखे का संकट दूर हो सकता है। गुजरात में अमरेली और देवभूमि द्वारका जिले को छोड़ दें तो अन्य जिलों में संतोषजनक बारिश नहीं हुई है।
मंगलवार को स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर की राहत आयुक्त और राजस्व विभाग की अतिरिक्त सचिव आद्रा अग्रवाल की अध्यक्षता में ऑनलाइन आयोजित की गई वेदर वॉच ग्रुप की बैठक में राज्य में बारिश और उससे उपजे हालात की समीक्षा की गई।
स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर के राहत निदेशक सी सी पटेल ने संवाददाताओं को बताया कि मंगलवार को सुबह छह से दोपहर दो बजे के दौरान राज्य के 10 जिलों की 28 तहसील में बारिश हुई है। सर्वाधिक बारिश नर्मदा जिले की डेडियापाडा तहसील में 58 मिलीमीटर दर्ज की गई।
राज्य में सात सितंबर तक 427.06 मिलीमीटर बारिश हुई है। जो बीते 30 सालों के राज्य के बारिश के औसत की तुलना में 50.84 फीसदी ही है। राज्य में बीते 30 सालों की बारिश का औसत देखें तो वह 840 मिलीमीटर है।
मौसम विभाग के अधिकारियों का कहना है कि आगामी तीन दिन राज्य में भारी बारिश की संभावना है। इनमें सौराष्ट्र के जूनागढ़, गिर सोमनाथ, अमरेली जिले में और मध्य गुजरात के वडोदरा, खेडा तथा दक्षिण गुजरात के भरुच और वलसाड जिले में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है।

एनडीआरएफ, एसडीआरएफ अलर्ट
राहत निदेशक सी सी पटेल ने बताया कि मौसम विभाग की ओर से दी गई भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए राज्य के संभावित जिलों में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को अलर्ट किया गया है। एनडीआरएफ की 15 टीमों में से आठ टीमों को डिप्लोय कर दिया गया है, जिसमें वलसाड, सूरत, नवसारी, राजकोट, गिरसोमनाथ, जूनागढ़, कच्छ और पोरबंदर में एक एक टीम तैनात की गई है। इसके अलावा छह टीम वडोदरा में और एक टीम को गांधीनगर में रिजर्व रखा है। इसमें से एक टीम अमरेली में रहेगी।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned