गुजरात के इन गिरोहों पर गिरी गुजसीटोक की गाज, पढि़ए कहां मचा रखा था आतंक

Gujcoc, Gujarat police, organised crime, gang, police गुजसीटोक के तहत एक साल में दर्ज हुए 8 मामले, 97 आरोपी किए नामजद, सबसे पहले अमरेली पुलिस ने सोनू डागर व 8 अन्य के विरुद्ध दर्ज किया था मामला, अहमदाबाद शहर में विशाल गोस्वामी और सुलतान गिरोह पर की गई कार्रवाई, हाल ही में सूरत क्राइम ब्रांच ने आसिफ टामेटा गिरोह के 14 लोगों पर दर्ज किया है मामला

By: nagendra singh rathore

Published: 01 Dec 2020, 07:05 PM IST

अहमदाबाद. आतंकी गतिविधियों और संगठित गिरोहों पर शिकंजा कसने के लिए इस साल से अमल में आए गुजरात कंट्रोल ऑफ टेररिज्म एंड ऑर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट (गुजसीटोक) के तहत एक साल में अब तक ८ मामले दर्ज किए जा चुके हैं। जिसमें अलग-अलग ८ गिरोहों के ९७ आरोपियों को नामजद किया गया है। ज्यादातर को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है।
गुजरात पुलिस के अनुसार राज्य में सबसे पहला मामला अमरेली जिला पुलिस ने सावरकुंडला थाने में कुख्यात महिला आरोपी सोनू डांगर और उसके गिरोह के आठ अन्य आरोपियों के विरुद्ध नौ मार्च २०२० को दर्ज किया।
उसके बाद अहमदाबाद शहर में क्राइम ब्रांच में कुख्यात आरोपी विशाल गोस्वामी और उसके गिरोह के पांच अन्य आरोपियों के विरुद्ध इस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई। दूसरा मामला वेजलपुर थाने में सुलतान खान पठान गिरोह के 11 आरोपियों के विरुद्ध दर्ज किया गया।
राजकोट शहर में भी 11 आरोपियों के विरुद्ध एक मामला दर्ज किया गया। राजकोट ग्राम्य पुलिस ने निखिल दोंगा गिरोह के 11 आरोपियों के विरुद्ध इस एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की।
सुरेन्द्रनगर जिले के ध्रांगध्रा थाने में गेडिया की जत गैंग के २० आरोपियों के विरुद्ध इस एक्ट के तहत कार्रवाई की। संख्या के लिहाज से ये राज्य की सबसे बड़़ी कार्रवाई है।
जामनगर के सिटी ए डिवीजन थाने में जयेश पटेल गिरोह के 13 सदस्यों के विरुद्ध भी इस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई कीगई है।
हाल ही में नई कार्रवाई सूरत शहर क्राइम ब्रांच की ओर से की गई है, जिसमें उसने आसिफ टामेटा गिरोह के 14 आरोपियों के विरुद्ध गुजसीटोक के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की है।

सुनिश्चित करें न हो दुरुपयोग: डीजीपी

डीजीपी आशीष भाटिया ने इस कानून के तहत संगठित होकर अपराध करके लोगों को परेशान करने वाले अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही पुलिस अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि इस कानून का दुरुपयोग ना हो यह भी सुनिश्चित करें।

गुजरात के इन गिरोहों पर गिरी गुजसीटोक की गाज, पढि़ए कहां मचा रखा आतंक
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned