सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 20 को

Mukesh Sharma

Publish: Nov, 14 2017 10:35:18 PM (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 20 को

गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान वीवीपैट (वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन से निकलनेवाली पर्ची की गिनती अनिवार्य करने की मांग को लेकर याचिका सुप्रीम

अहमदाबाद/नई दिल्ली।गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान वीवीपैट (वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन से निकलनेवाली पर्ची की गिनती अनिवार्य करने की मांग को लेकर याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता गुजरात जनहित मंच को निर्देश दिया कि वे सभी पक्षकारों को याचिका की प्रति उपलब्ध कराएं। सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर 20 नवंबर को सुनवाई करेगा ।

मंच की ओर से दायर याचिका में कहा गया है कि रिटर्निंग अधिकारी विवाद के समय ही पर्ची की गिनती करते हैं लेकिन सु्प्रीम कोर्ट के 2013 के फैसले के मुताबिक इसकी गिनती अनिवार्य है। इस बार पहली बार गुजरात विधानसभा चुनावों में ईवीएम के साथ वीवीपैट का उपयोग होना है।

केन्द्रीय निर्वाचन आयोग ने गत 25 अक्टूबर को गुजरात विधानसभा चुनाव ? के लिए अधिसूचना जारी की थी। चुनाव आयोग यह स्पष्ट कर चुकी है कि अब लोकसभा चुनाव सहित सभी चुनाव वीवीपैट के साथ होंगे। इसमें कहा गया कि गुजरात में पहली बार वीवीपैट के साथ चुनाव होंगे।

उना कांड जैसी घटनाएं घटती रहती हैं : पासवान

केद्रीय खाद्य, नागरिक आपूर्ति व उपभोक्ता मामलों के मंत्री तथा लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के नेता ने भाजपा मीडिया सेन्टर में शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दलितों के साथ छोटी-मोटी घटनाएं घटती रहती हैं। उन्होंने उना की घटना को निंदनीय बताते हुए कहा कि बिहार में भी इस तरह की घटनाएं होती रहती है। उन्होंने कहा कि सरकार ने भी तो इस मामले पर तुरंत एक्शन लिया था।पासवान ने संभवत: इसके पीछे के कारण के ओर इशारा करते हुए कहा कि दलितों में आज दो पीढ़ी है। पुरानी पीढ़ी के लोग झुकते थे, लेकिन नई पीढ़ी के लोग झुकने के लिए तैयार नहीं है।

लोजपा नहीं लड़ेगी चुनाव : रामविलास पासवान ने कहा कि लोजपा राज्य विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी। भाजपा मीडिया सेन्टर में शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि वे यह बात स्पष्ट करना चाहते हैं। भाजपा के साथ लडऩे से या समर्थन करने से यदि भाजपा को लाभ मिलता है तो ऐसा किया जा सकता है। हालांकि वे इस मुद्दे पर थोड़े अस्पष्ट भी दिखे। उन्होंने कहा कि पार्टी के संसदीय दल के अध्यक्ष चिराग पासवान के साथ अभी इस मुद्दे पर बातचीत नहीं हुई है। यहां पर भाजपा के भी नेता हैं और लोजपा के भी नेता हैं। जहां जरूरत होगी वहां पार्टी चुनाव लड़ेगी और जहां जीतने की स्थिति होगी वहीं चुनाव लड़ेगी।

पासवान के बयान पर भडक़े मेवाणी

गुजरात में दलित मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए भाजपा की ओर से चुनाव प्रचार करने शनिवार को अहमदाबाद पहुंची दलित नेता व अन्न एवं नागरिक आपूर्ति व उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान की ओर से उनाकांड पर दिए गए बयान पर जिग्नेश मेवाणी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। गुजरात में डेढ़ साल पहले हुई उना दलित प्रताडऩा की घटना के बाद ही इस मुद्दे पर देशभर का ध्यान खींचने के चलते दलित चेहरा बनकर उभरे जिग्नेश मेवाणी ने इसे गुजरात ही नहीं बल्कि पूरे देश के दलितों के लिए अपमान करने वाला बताया।

उन्होंने इस मामले में पासवान का इस्तीफा तक मांग लिया। मेवाणी ने कहा कि दलितों को जिस प्रकार से अद्र्धनग्न करके सरेआम वाहन से बांधकर पीटा गया। ऐसा होने से पीडि़तों का जो स्वाभिमान आहत हुआ है। उसे तो वही जानते हैं। इसे छोटी और सामान्य घटना करार देने के रामविलास पासवान के बयान की वह कड़े शब्दों में निंदा करते हैं।
रामविलास पासवान ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में उनाकांड को भी देश में होने वाले सामान्य घटनाओं के समान बताया था। हालांकि उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं होने के बाद सरकार की ओर से क्या कदम उठाए जाते हैं वह भी महत्व रखता है।

1
Ad Block is Banned