scripthigh speed, track, design, MOU, Make in india, technology | हाईस्पीड के ट्रैक व डिजाइन को लेकर हुआ समझौता | Patrika News

हाईस्पीड के ट्रैक व डिजाइन को लेकर हुआ समझौता

high speed, track, design, MOU, Make in india, technology: 'मेक इन इंडिया की पहल' व 'ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी' को मिलेगा बढ़ावा

अहमदाबाद

Published: January 21, 2022 10:19:42 pm

गांधीनगर. मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के लिए डबल लाइन हाई स्पीड रेलवे गुजरात में वडोदरा और वापी के बीच 237 किलोमीटर के लिए ट्रैक और ट्रैक से संबंधित कार्यों के डिजाइन, आपूर्ति और निर्माण के लिए नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने शुक्रवार को इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।
हाईस्पीड के ट्रैक व डिजाइन को लेकर हुआ समझौता
हाईस्पीड के ट्रैक व डिजाइन को लेकर हुआ समझौता
जापानी एचएसआर (शिंकानसेन) में गिट्टी-रहित स्लैब ट्रैक सिस्टम का उपयोग भारत की पहली एचएसआर परियोजना पर किया जाएगा। जापान रेलवे ट्रैक कंसल्टेंट कंपनी लिमिटेड (जेआरटीसी) ने समझौते के तहत प्रमुख हाईस्पीड रेल ट्रैक घटकों जैसे आरसी ट्रैक बेड, ट्रैक स्लैब व्यवस्था और निरंतर वेल्डेड रेल बलों की विस्तृत डिजाइन और ड्राइंग प्रदान की है। भारतीय कंपनी इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड को यह ठेका दिया गया है। यह समझौता मेक इन इंडिया पहल को बढ़ावा देगा।
समझौते पर हस्ताक्षर समारोह में एनएचएसआरसीएल के प्रबंध निदेशक सतीश अग्निहोत्री के साथ अन्य निदेशक, भारत में जापानी दूतावास में आर्थिक एवं विकास मंत्री शिंगो मियामोटो, मुख्य प्रतिनिधि साइतो मित्सुनोरी ने भाग लिया।

इस अवसर पर हाईस्पीड के प्रबंध निदेशक सतीश अग्निहोत्री ने कहा कि जापानी कंपनी से बहुत प्रभावी तरीके से सहायता मिली है । जेआईसीसी, जार्ट्स और जेआरटीसी द्वारा एमएएसएसआर परियोजना के लिए दी गई तकनीकी सहायता मिल रही है। इस समझौते के तहत भारतीय ठेकेदारों को जापानी शिंकानसेन प्रौद्योगिकी का हस्तांतरण प्राप्त होगा जो मेक इन इंडिया को एक बड़ा बढ़ावा देगा"।
नेशनल हाईस्पीड के निदेशक परियोजना राजेंद्र प्रसाद ने कहा कि "शिंकानसेन प्रौद्योगिकी की सुरक्षा का असाधारण रिकॉर्ड है और ट्रैक ट्रेन चलाने की सुरक्षा में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह तकनीक के हस्तांतरण का उदाहरण है, क्योंकि जापानी विशेषज्ञ भारतीय ठेकेदारों के पर्यवेक्षकों और कामगारों को प्रशिक्षण देने के लिए भारत आएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Gyanvapi Survey: सर्वे के दौरान कुएं में मिला शिवलिंग, हिन्दू पक्ष के वकील ने किया दावाअसम में बाढ़ से 7 जिलों के लगभग 57 हजार लोग प्रभावित, बचाव कार्य में जुटी इंडियन एयरफोर्सराजस्थान में तपिश और लू बनी ‘संजीवनी’, हुआ ये बड़ा फायदाCNG Price Hike: एक साल में CNG में 69.60% की बढ़ोतरी, जानें आपके शहर की लेटेस्ट कीमतहवाई सफर होगा महंगा, Jet Fule की कीमतें 5% बढ़ी, विश्व स्तर पर बढ़ती कीमतों का असरसोनिया गांधी का ये अंदाज पंसद आया, वे मुस्कुराई तो सभी कांग्रेसी भी मुस्कुराए, देखे पूरा वीडियो80 वर्षीय मशहूर चित्रकार ने नाबालिग से 7 साल तक किया 'डिजिटल रेप', जानें क्या होता है Digital RapeLunar Eclipse 2022: सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण हो गया है शुरू, क्यों कहा जा रहा 'ब्लड मून', जानिए भारत से कैसे और कहां दिखेगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.