Hydraulic ladder not working, people anger हाइड्रोलिक सीढ़ी के काम न करने पर रोष

Hydraulic ladder not working, people anger हाइड्रोलिक सीढ़ी के काम न करने पर रोष

nagendra singh rathore | Updated: 26 Jul 2019, 09:44:03 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

नीचे से चौथी मंजिल तक लगाई सीढ़ी, शेड तोड़कर उतारा

अहमदाबाद. बचाव और मदद के लिए हाइड्रोलिक सीढ़ी के पहुंचने पर भी इसके काम नहीं करने पर लोगों में काफी रोष देखने को मिला। ई ब्लॉक में ही दूसरी मंजिल पर रहने वाले डॉ.रितेश पंचाल ने कहा कि करीब एक घंटे से ये सीढ़ी यहां आ पहुंची है, लेकिन काम नहीं कर रही है। यदि यह काम करती तो जल्दी आग पर काबू पा लिया गया होता और लोगों को भी आसानी से और जल्द बचाया जा सकता था। पांचवीं मंजिल पर रहने वाले प्रतांश सरवैया का कहना था कि फायरब्रिगेड के पास साधन होने का भी कोई फायदा नहीं हो पाया। इस दिशा में गंभीरता से सोचने की जरूरत है।

नीचे से चौथी मंजिल तक लगाई सीढ़ी, शेड तोड़कर उतारा

अहमदाबाद. पांचवीं मंजिल पर लगी आग के ऊपर की मंजिलों तक पहुंचने, धुएं के फैलने के बीच हाइड्रोलिक सीढ़ी के काम नहीं करने पर दमकल कर्मचारियों ने नीचे जाल बिछा दिया था। चौथी मंजिल तक एक सीढ़ी भी लगा दी थी।
इन सबके बीच छत से रस्सों के जरिए और आग बुझाने वाले पाइप के जरिए लोगों को बांधकर नीचे उतारने में दिक्कत आई, क्योंकि कई जगहों पर खिड़कियों पर शेड बना दिए थे। जिससे पहले प्लास्टिक के उन शेड़ को तोड़ा गया और फिर लोगों को नीचे उतारा गया।
सूरत जैसी घटना नहीं बने इसलिए नेट भी बिछा दिए गए थे। लोगों को तत्काल मदद पहुंचाई गई और भरोसा दिलाया। इसलिए कोई नीचे नहीं कूदा और सभी को सुरक्षित नीचे उतार लिया गया।

Shed
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned