अहमदाबाद की औसत ,  मुंबई व दिल्ली की जीवनशैली बेहतर

आईआईटी-मुंबई के शोधकर्ताओं का दावा

By: Pushpendra Rajput

Published: 30 Jan 2021, 10:00 PM IST

गांधीनगर. देश की शहरी जीवनशैली में यदि अहमदाबाद की बात की जाए तो यहां औसतन जीवनशैली है। जहां ग्रेटर मुंबई, दिल्ली और कोलकाता की जीवनशैली सबसे बेहतर हैं। वहीं अहमदाबाद में 411 किलोमीटर परिवहन नेटवर्क की और आवश्यकता है। जबकि सबसे ज्यादा हैदराबाद को 1392 किलोमीटर नेटवर्क की जरूरत है। आईआईटी-मुंबई के सिविल इंजीनियरिंग के शोधकर्ताओं ने यह दावा किया है।

देश के 14 शहरों की जीवनशैली को लेकर इन शोधकर्ताओं ने सर्वे किया था, जिसमें अहमदाबाद आठवें स्थान पर रहा। क्वालिटी ऑफ लाइफ विथ जेण्डर रोल (लिंगानुपात के साथ जीवनशैली की गुणवत्ता) के मामले में अहमदाबाद 2.23 इंडेक्स के साथ आठवें स्थान पर है। औसतन क्वालिटी ऑफ लाइफ इंडेक्स 2.35 है। वहीं मुंबई एवं दिल्ली 3.4, कोलकाता 3.3 इंडेक्स के साथ श्रेष्ठ स्थान पर रहे। वहीं चेन्नई 2.9, हैदराबाद 2.6, बेंगलुरू 2.3, पुणे 2.36 इंडेक्स के साथ बेहतर रहे। अहमदाबाद के अलावा चंडीगढ 2.1, भोपाल 1.72, लखनऊ 1.67, जयपुर 1.64, इन्दौर 1.61, पटना 1.1 इंडेक्स के साथ औसत स्थान पर पाए गए। सर्वे में बुनियादी सुविधाएं, पर्यावरण स्थिति, आर्थिक विकास इंडेक्स, सुरक्षा और संरक्षा, ट्रांसपोर्टेशन, बुनियादी विकास समेत पहलुओं को लेकर सर्वे किया गया।
परिवहन नेटवर्क की आवश्यकता
यदि ट्रांसपोर्ट नेटवर्क की आवश्यकता की बात की जाए तो सर्वे के मुताबिक हैदराबाद में 13,92 किलोमीटर, लखनऊ में 517 किलोमीटर, जयपुर में 458 किलोमीटर, अहमदाबाद में 411 किलोमीटर, पटना 227 किलोमीटर, इन्दौर 175 किलोमीटर, पुणे 198 किलोमीटर की आवश्यकता है।

अहमदाबाद रोजगार देने में बेहतर

वहीं यदि बेरोजगारी के मामले में गुजरात में एक हजार में से तीन ही लोग बेरोजगार बताए गए हैं, जो अहमदाबाद की देश में सबसे बेहतर स्थिति को बताती है। वहीं लखनऊ में एक हजार पर 85 लोग बेरोजगार हैं। मतलब कि बेरोजगारी के मामले में लखनऊ की स्थिति ज्यादा खराब है।

वहीं चेन्नई महिलाओं के लिए सबसे सुरक्षित माना गया है। महिला सुरक्षा के लिहाज से अहमदाबाद भी बेहतर है, जहां बेहतर शिक्षा और बेहतर चिकित्सा सुविधा है। नशाबंदी होने से अराजकता का माहौल नही है। राजनीतिक हस्ताक्षेप भी कम ही होती है। वहीं बिहार के पटना शहर को सबसे कम अनुकूल बताया गया है।

Show More
Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned