मेजर बनकर २५ राज्य की युवतियों को ठगने वाला गिरफ्तार

मेजर बनकर २५ राज्य की युवतियों को ठगने वाला गिरफ्तार

nagendra singh rathore | Publish: Sep, 16 2018 10:20:21 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

वैवाहिक वेबसाइट पर बनाता फेक प्रोफाइल, विवाह का देता था झांसा

अहमदाबाद. वैवाहिक वेबसाइट पर फर्जी नाम, पता और फोटो का उपयोग करके फेक प्रोफाइल बनाकर २५ राज्यों की युवतियों के पास से लाखों रुपए की ठगी करने वाले शातिर आरोपी जुलियन उर्फ सिद्धार्थ विक्टर सिन्हा (४२) को साइबर सेल ने शनिवार को गिरफ्तार किया है। आरोपी खुद को आर्मी में मेजर बताते हुए युवतियों को विवाह का झांसा देता था।
नवरंगपुरा निवासी युवती कविता से भी जनवरी महीने में आर्मी का मेजर सिद्धार्थ मेहरा बताते हुए शादी डॉट कॉम वेबसाइट के माध्यम से परिचय किया था। फिलहाल कच्छ के नलिया में पोस्टिंग होने की बात कहते हुए आरोपी ने कविता को विवाह का झांसा दिया। विश्वास जीता और फिर आर्मी हाऊसिंग में ४९५०० रुपए जमा कराने की बात कहते हुए। ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर करवा लिए। इसके बाद आरोपी ने अपना फोन बंद कर दिया। ठगी का एहसास होने पर कविता ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई थी।
साइबर सेल के प्रभारी एसीपी जे.एस.गेडम ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि शादी डॉटकॉम वेबसाइट पर सिद्धार्थ मेहरा के नाम से प्रोफाइल बनाने वाला व्यक्ति हकीकत में चांदखेड़ा निवासी जुलियन विक्टर सिन्हा (४२) है। जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। दसवीं पास जुलियन विवाहित है। उसके पिता आर्मी में थे। जिससे वह आर्मी से परिचित है और सभी को आर्मी में होने का कहकर बातचीत करता था।
उसने जीवनसाथीडॉकॉम, भारतमेट्रीमोनीडॉट कॉम, डिफेंसमेट्रीमोनीडॉट कॉम पर भी सिद्धार्थ मेहरा नाम से ही फर्जी प्रोफाइल बनाई है। खुद का नकली फोटो, नाम और पता दिया। कई बार प्रोफाइल ब्लॉक भी की गई, लेकिन वह आयु, पता व फोटो बदलकर फिर नई प्रोफाइल बना लेता।
प्राथमिक जांच में पता चला कि आरोपी ने इसी प्रकार से अब तक करीब २५ राज्यों की युवतियों से लाखों रुपए की ठगी की है।
आरोपी वर्ष २०११ में सेवा निवृत्त आर्मी के सूबेदार को भी रिलायंस में नौकरी दिलाने के बहाने ठग चुका है। इस आरोप में क्राइम ब्रांच में पकडा जा चुका है। वर्ष २०१३ में वडोदरा की युवती को विवाह का झांसा देकर ९० हजार और वर्ष २०१६ में साबरमती में विवाह का झांसा देकर युवती के पास से धंधे के लिए ३० लाख रुपए लेकर ठगी के आरोप में भी पकड़ा जा चुका है।
साइबर सेल ने दिल्ली की युवती के तीन लाख बचाए
आरोपी की गिरफ्तारी के दौरान जांच में सामने आया कि जुलियन ने दिल्ली की रहने वाली एक युवती को भी एक सप्ताह पहले अपने झांसे में फंसाया। उसे भी सिद्धार्थ महेरा के रूप में परिचय दिया। आर्मी में मेजर होने और फिलहाल जम्मू एवं कश्मीर में पोस्टिंग होने की बात कही। आतंकियों के विरुद्ध लडऩे के लिए आर्मी में एंटी टेररिस्ट फंड में जमा कराने के नाम पर तीन लाख रुपए की मांग युवती से की थी। युवती भी विश्वास में आ गई थी और वह आज कल में ही रुपए जमा कराने वाली थी। इस दौरान साइबर सेल ने उसे पकड़ लिया और कॉल डिटेल के आधार पर युवती का संपर्क करके उसे सच्चाई बताई और उसे उसे पैसे जमा कराने से रोकते हुए ठगी का शिकार होने से बचाया। युवती भी दिल्ली में प्राथमिकी दर्ज कराएगी।

Ad Block is Banned