सौराष्ट्र में भारी बारिश से बांधों में बढ़ा जल स्तर

सौराष्ट्र में भारी बारिश से बांधों में बढ़ा जल स्तर

Omprakash Sharma | Publish: Jul, 13 2018 10:44:26 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

प्रदेश की ८२ तहसीलों में बरसात
कोडीनार में आठ इंच

अहमदाबाद/राजकोट. दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र में भारी बारिश के चलते बांधों का जलस्तर बढऩे लगा है। सौराष्ट्र के कई बांधों मेें तेजी से पानी की आवक हो रही है। शुक्रवार को प्रदेश की ८२ तहसीलों मेें हल्की से लेकर भारी बारिश हुई। इसमें जूनागढ़ जिले में सर्वाधिक है। भारी बारिश के चलते अमरेली जिले की सभी नदियों में उफान है। जिले के वडिया, रामपुर, खाखरिया, बरवाळा, बावळ, ढूंढिया पीपलिया समेत गांवों में सात से आठ इंच तक बारिश हो गई। जिसके चलते नदी, चेकडेम व बांधों में पानी की आवक बढ़ गई है। अमरेली जिले के वडिया के सुखो डेम ओवरफ्लो होने में ढाई फीट शेष है।  बरवाळा बावल गांव निवासी व अनाज की दुकान चलाने वाले जितेन्द्र पानसुरिया (३३) गुरुवार शाम को मोटरसाइकिल से जा रहा था। उस दौरान नदी के किनारे पर गहरे पानी में मोटरसाइकिल समेत बह गया। युवक ती तलाश की जा रही है। इसके अलावा बालापुर के निकट स्थित सातलडी नदी में आए उफान में एक कार बहने की भी चर्चा है। इसके अलावा इसी नदी में एक युवक की भी तलाश की जा रही है। कोटडा सांगाणी समेत विविध भागों में हुई भारी बारिश के कारण कई गावों से लोगों को स्थानान्तरण भी करवाया जा रहा है। उधर, राजकोट जिले की ढोलरा गांव के निकट उफनते नाले में ट्रेक्टर बह गया। ट्रेक्टर में सवार अभिषेक समेत तीन में से एक बच्चे को नहीं बचाया जा सका। शुक्रवार सुबह बच्चे का शव मिला।
सिविल अस्पताल में भरा पानी
राजकोट के जेतपुर स्थित सिविल अस्पताल परिसर में शुक्रवार सुबह भारी बारिश के कारण पानी भर गया। जिससे मरीज और अभिभावकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। भारी बारिश के चलते जामनगर में कार्यरत एनडीआरएफ की टीम को भी राजकोट शहर व जिले में भेजा गया है।
बारिश के कारण २४ गांवों में अधेंरा
मौसम में बारिशजन्य हादसों में २२ की मौत
राज्य में भारी बारिश का जोर बरकरार
अहमदाबाद/जूनागढ़/वेरावळ. सौराष्ट्र में भारी बारिश के चलते जनजीवन प्रभावित होने लगा है। शुक्रवार को सौराष्ट्र रीजन की ११ तहसीलों में दो से सात इंच बारिश हुई। जिसके चलते सौराष्ट्र के चार जिलों के २४ गांवों में बिजली ठप होने से अंधेरा छा गया। आगामी पांच दिनों तक भी राज्य के विविध भागों में भारी बारिश होने की चेतावनी दी गई है। मौसम में बारिश जन्य हादसों में अब तक राज्य में २२ जन की मौत भी हो गई।
राज्य के स्टेट इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर के अनुसार शुक्रवार को जूनागढ़ जिले के मालिया तहसील में १७५ व सूत्रापाडा में १६२ मिलीमीटर बारिश हुई। सौराष्ट्र की कुल ११ तहसीलों में अच्छी बारिश हुई। हालांकि कुछ जगहों पर बारिश के कारण जनजीवन भी प्रभावित हुआ है। राजकोट, जूनागढ़, गिरसोमनाथ और अमरेली जिले के २४ गांवों मेें भारी बारिश के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हुई है जिससे गांवों में अंधेरा छाया हुआ है। गांवों में बिजली बहाल के प्रयास किए जा रहे हैं। गिर सोमनाथ जिले में २४ घंटे में कोडीनार में बारह इंच बारिश व सूत्रापाड़ा में छह इंच बारिश होने की खबर है। बारिश के कारण ऊना, तलाला, मांगरोल, लोढवा, धामलेज समेत गांवों के आसपास पानी भरने से यातायात भी बाधित हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी पांच दिनों तक दक्षिण गुजरात रीजन, सौराष्ट में कुछ जगहों पर भारी बारिश हो सकती है।
इन जगहों पर भारी बारिश
जूनागढ़ जिले की मालिया तहसील में शुक्रवार को सबसे अधिक सात इंच बारिश हुई। इसके अलावा गिर सोमनाथ जिले की सूत्रापाड़ा तहसील में साढ़े छह इंच, कोडीनार में छह इंच के करीब, राजकोट की जामकंडोरिया तहसील में चार इंच तथा जूनागढ़ के विसावदर में भी चार इंच के करीब बारिश हुई।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned