script दूध उत्पादन में अव्वल भारत प्रति पशु दूध उत्पादकता में पीछे | India tops milk production but behind in milk productivity per animal | Patrika News

दूध उत्पादन में अव्वल भारत प्रति पशु दूध उत्पादकता में पीछे

locationअहमदाबादPublished: Dec 19, 2023 10:45:24 pm

Submitted by:

Rajesh Bhatnagar

इंडियन डेयरी एसोसिएशन की गुजरात इकाई का सेमिनार

दूध उत्पादन में अव्वल भारत प्रति पशु दूध उत्पादकता में पीछे
दूध उत्पादन में अव्वल भारत प्रति पशु दूध उत्पादकता में पीछे
आणंद. भारत में डेयरी उद्योग की सर्वोच्च संस्था इंडियन डेयरी एसोसिएशन की गुजरात इकाई की ओर से अमूल डेयरी में हाल ही एक सेमिनार का आयोजन किया गया।

अनलॉकिंग बोवाइन पोटेंशियल सेक्स सॉर्टेड सीमेन एंड एम्ब्रियो ट्रांसफर टेक्नोलॉजी विषय पर सेमिनार में नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. मिनेश शाह मुख्य अतिथि थे।उन्होंनें कहा कि भारत दूध उत्पादन के मामले में दुनिया में नंबर एक है। उन्होंने चिंता भी व्यक्त की कि भारत प्रति पशु दूध उत्पादन के मामले में बहुत पीछे है।
डॉ. शाह ने कहा कि अगर हमारा लक्ष्य भारत को दुनिया के लिए डेयरी बनाने का है, तो यह न केवल पशुओं की संख्या बढ़ाने से बल्कि प्रति पशु दूध उत्पादकता बढ़ाने से भी संभव होगा।उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने एनडीडीबी के नाम से पूरे भारत में भ्रूण स्थानांतरण तकनीक के उपयोग के लिए प्रति गर्भावस्था 5,000 रुपए की सब्सिडी की घोषणा की है।
अमूल डेयरी के चेयरमैन विपुल पटेल ने कहा कि वर्तमान समय में ग्रामीण स्तर पर पशुपालन बहुत महत्वपूर्ण साबित हुआ है, जो आर्थिक समृद्धि के लिए जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि अब हमें पशुपालन को आधुनिक बनाना होगा जिसमें हमें पशुओं की दूध उत्पादकता बढ़ाने के लिए काम करना होगा। उन्होंने कहा कि दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए काम कर सकते हैं, तो वे पशु चिकित्सक हैं।
एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. आर एस सोढ़ी, पश्चिम क्षेत्र के अध्यक्ष डॉ. जे बी प्रजापति, गुजरात इकाई के अध्यक्ष सह अमूल डेयरी के प्रबंध निदेशक अमित व्यास, राज्य की सभी सहकारी डेयरियों के चिकित्सक, एनडीडीबी और जीसीएमएमएफ, गुजरात राज्य पशुपालन विभाग के चिकित्सक और विभिन्न कंपनियों के अधिकारियों ने हिस्सा लिया।अमूल डेयरी की ओर से मोगर गांव में स्थापित बोवाइन ब्रीडिंग सेंटर का दौरा किया गया और अमूल की ओर से प्राप्त परिणामों का अवलोकन किया गया। सेमिनार में हुई चर्चा और उसकी रिपोर्ट एसोसिएशन के माध्यम से भारत सरकार को प्रस्तुत की जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो