Railway: प्लेटफार्म पर न पानी, न लाइट फिर ट्रेन दौड़ेगी ट्रेन !

indian railway, plateform, electric, water facilities, train : चांदलोडिया रेलवे स्टेशन भंवरजाल

By: Pushpendra Rajput

Published: 17 Oct 2020, 09:00 PM IST

गांधीनगर. चांदलोडिया रेलवे स्टेशन (Railway station) रेलयात्रियों के लिए भी भंवरजाल जैसा है। चांदलोडिया में दो रेलवे स्टेशन हैं चांदलोडिया-ए रेलवे स्टेशन और उससे करीब डेढ़ से दो किलोमीटर दूर चांदलोडिया-बी रेलवे स्टेशन से हैं। चांदलोडिया - बी रेलवे स्टेशन रेलवे अधिकारियों के अलावा कम ही रेलयात्री (railway passengers) होंगे जो यह रेलवे स्टेशन जानते होंगे। चांदलोडिया-बी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म (Plateform) पर न तो पानी, न लाइट है। प्लेटफार्म पर पत्थर लगाने और मरम्मत कार्य चल रहा है। इसके बावजूद भी रेलवे प्रशासन की ओर से शनिवार से सौराष्ट्र से आने वाली पोरबंदर-सरायरोहिल्ला एक्सप्रेस पर ठहराव की हरी झंडी दे दी गई।

अहमदाबाद रेलवे स्टेशन (Ahmedabad railway station) का बोझ घटाने के लिए अब दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनों को चांदलोडिया रेलवे स्टेशन से होते मेहसाणा के लिए रवाना होंगी, लेकिन अभी चांदलोडिया-बी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म को तो ऊंचा कर दिया गया लेकिन अभी तक वहां न लाइट है न पानी है। न ही यात्रियों की बैठने की सुविधा है। मौजूदा समय में ही इस स्टेशन के प्लेटफार्म पर पत्थर लगाने का कार्य चल रहा है। फिर भी शनिवार से पोरबंदर-सरायरोहिल्ला एक्सप्रेस ट्रेन को यहां ठहराव दिया गया है।

सुविधाएं विकसित करेें फिर दौड़ाएं ट्रेनें

चांदलोडिया में ही रहने वाले डॉ. कमलेश राजगोर से जब इस स्टेशन को बारे में पूछा गया तो वे खुद ही अनभिज्ञ दिखे। जबकि उनके घर से महज एक से डेढ़ किलोमीटर यह स्टेशन होगा। वे बताते हैं ं अच्छी बात है कि चांदलोडिया-बी स्टेशन पर ट्रेन ढहरेगी। दिल्ली और सौराष्ट्र की ओर जाने वाले यात्रियों को भी चांदलोडिया और उसके आसपास रहनेवालों को आसानी होगी, लेकिन रेल प्रशासन को पहले सुविधाएं विकसित करनी चाहिए। यह ऐसे स्टेशन जहां न लाइट है न ही पानी और ट्रेन का रात को आगमन और प्रस्थान होगा। ऐसे में यात्रियों के लिए खासी दिक्कत सकती है। सुरक्षा पर सवाल खड़े हो सकते हैं। ऑटोरिक्शा मिलना भी मुश्किल होगा।

सप्ताह में दो दिन चलेगी पोरबंदर-सरायरोहिल्ला ट्रेन
पोरबंदर से दिल्ली सरायरोहिल्ला एक्सप्रेस शनिवार से दौड़ाई जाएगी, जो सप्ताह में दो दिन चलेगी। अब यह ट्रेनन अहमदाबाद के बजाय चांदलोडिया-बी रेलवे स्टेशन से खोडियार स्टेशन होते हुए मेहसाणा जाएगी। इसके चलते अब यात्रियों को अहमदाबाद स्टेशन के बजाय चांदलोडिया जाना होगा।

सुविधाएं जल्द से जल्द विकसित करेंगे

अहमदाबाद के मंडल रेल प्रबंधक दीपक कुमार झा ने बताया कि इस रेलवे स्टेशन पर काफी हद तक कार्य पूर्ण हो चुका है। प्लेटफार्म बन गया है। हालांकि लॉकडाउन के चलते कुछ विलम्ब जरूर हुआ, लेकिन जल्द से जल्द स्टेशन को विकसित कर देंगे। बिजली और पानी के सवाल पर उन्होंने कहा कि इतनी सुविधाएं तक हम विकसित कर देंगे।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned