कोर्ट से भागा कैदी चंद घंटों बाद ही गिरफ्तार

नवरंगपुरा पुलिस ने जमालपुर से दबोचा

By: nagendra singh rathore

Published: 25 Apr 2018, 11:19 PM IST

अहमदाबाद. शहर के नवरंगपुरा इलाके में स्थित शहर सत्र न्यायालय परिसर से पेशी के दौरान पुलिस कर्मचारी को चकमा देकर फरार हुए गोमतीपुर में दर्ज दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार कैदी आसिफ उर्फ लोबान को नवरंगपुरा पुलिस ने चंद घंटों बाद ही गिरफ्तार कर लिया।
पीआई ए.एम.परमार ने बताया कि पुलिस की टीमों ने उसके भागने के बाद से ही उसकी तलाशी शुरू की थी। आखिरकार उसे शाम को जमालपुर इलाके से दबोच लिया गया। वह नशे की हालत में था। उसके विरुद्ध नशाबंदी अधिनियम के तहत भी एक अलग से मामला दर्ज किया जा रहा है।
आरोपी आसिफ उर्फ लोबान रेशमवाला पर गोमतीपुर थाने में वर्ष २०१६ में पोक्सो के तहत मामला दर्ज हुआ है। इस मामले में उसे जेल से बाहर आनेकी उम्मीद नहीं दिखी जिसके चलते बुधवार को जब उसे पेशी के लिए लाया गया। कांस्टेबल जब वारंट लेने के लिए अंदर गया तो वह दूसरे कांस्टेबल को चमका देकर हथकड़ी से हाथ निकालकर फरार हो गया।

ज्ञात हो कि कुछ दिनों पहले शाहीबाग थाना इलाके में यू.एन.मेहता अस्पताल परिसर से आरोपी सिराज पठान फरार हो गया था। इस मामले में चार पुलिस कर्मचारियों की हाल ही में गिरफ्तारी की गई। पकड़े गए पुलिस कर्मचारियों में एएसआई रामाभाई परषोत्तमभाई, हेड कांस्टेबल हमेशभाई, कांस्टेबल राजीव उर्फ राजेश, वनराज सिंह शामिल हैं।
आरोपी सिराज पठान गुरुवार को सिविल अस्पताल परिसर में स्थित यू.एन.महेता हॉस्पिटल के पास से एक कार में बैठकर फरार हो गया था। इस मामले में शाहीबाग पुलिस ने उसके जाप्ते में शामिल पुलिस कर्मचारियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की थी। आरोपी को भगाने के एवज में कितने रुपए लिए गए हैं इस बात की जांच की जा रही है।
आरोपी सिराज पर वेजलपुर, नारणपुरा, साणंद व आणंद में फिरौती मांगने के मामले दर्ज थे। उसे अदालत की ओर से आजीवन कैदी की सजा भी सुनाई गई है। साबरमती जेल में बंद था। गुरुवार को चिकित्सा के सिलसिले में सिविल अस्पताल परिसर स्थित यू.एन.मेहता हॉस्पिटल में लाया गया था। यहां वह जाप्ते के सुरक्षा कर्मचारियों को चकमा देकर फरार हो गया।

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned