Ahmedabad News देश के 11 राज्यों के 70 लोगों को ५.४४ करोड़ की लगाने वाले गिरोह का पर्दाफाश,जानिए कहां से पकड़े गए...

Ahmedabad News देश के 11 राज्यों के 70 लोगों को ५.४४ करोड़ की लगाने वाले गिरोह का पर्दाफाश,जानिए कहां से पकड़े गए...
Ahmedabad News देश के 11 राज्यों के 70 लोगों को ५.४४ करोड़ की लगाने वाले गिरोह का पर्दाफाश,जानिए कहां से पकड़े गए...

nagendra singh rathore | Updated: 12 Oct 2019, 07:09:01 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

IRDA, Cyber crime Ahmedabad, Crime, online fraud, Fake call center gang busted, insurance policy fraud, इरडा कर्मी बन फोन कर ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 19 को पकड़ा, साइबर क्राइम ने दिल्ली में दी दबिश

 

अहमदाबाद. अहमदाबाद Cyber crime साइबर क्राइम ने बीमा पॉलिसी समय से पहले बंद कर उसका पैसा लेने के इच्छुक पॉलिसी धारकों को IRDA भारतीय बीमा विनियामक विकास प्राधिकरण (आईआरडीए-इरडा) कर्मचारी बनकर चपत लगाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। इस मामले में दिल्ली के प्रीत विहार इलाके में एक कॉल सेंटर में दबिश देकर 19 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।
आरोपियों की पूछताछ में देश के 11 राज्यों के ७० लोगों को पांच करोड़ ४४ लाख रुपए की चपत लगाने की बात सामने आई है। अहमदाबाद में चांदखेडा निवासी एक सेवानिवृत्त शिक्षा विभाग के कर्मचारी से 38 लाख रुपए जनवरी से मार्च २०१९ के दौरान ठगने का आरोप कबूला है। पहचान नहीं होने के लिए आरोपी इनबिल्ट वॉइस चेंजर वाले मोबाइल फोन का उपयोग करते थे। पुलिस ने ऐसे दो मोबाइल फोन भी बरामद किए।
साइबर क्राइम की टीम ने आरोपियों से 42 मोबाइल फोन, छह सीपीयू, दो सिम कार्ड, एक पेन ड्राइव एवं 15 हजार लोगों के नाम, नंबर, पॉलिसी के ब्यौरे के कागजात बरामद किए। यह कॉल सेन्टर गत डेढ़ वर्ष से चल रहा था।
जगतपुर गांव निवासी 6 1 वर्षीय बुजुर्ग ने चांदखेड़ा थाने में शिकायत की थी। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी 11 बीमा पॉलिसी को बंद कर उसके रुपए लेने के लिए उन्होंने बीमा एजेंट से बात की थी। इसका पता आरोपियों को चल गया, जिससे आरोपियों ने फोन कर बुजुर्ग से कहा कि एजेंट के जरिए पॉलिसी की रकम लेने पर सिर्फ 30 से 40 फीसदी राशि ही मिलेगी। आरोपियों ने कहा कि वे इरडा से बोल रहे हैं। इरडा मदद करेगा तो पॉलिसी की पूरी राशि समय से पहले पॉलिसी बंद करने पर भी मिल जाएगी। आरोपियों की बातों में आए बुजुर्ग से आरोपियों ने कभी इनकम टैक्स चार्ज, कभी बॉन्ड तो कभी अन्य मद में अलग-अलग खाते में राशि भरवाई फिर वह राशि निकाल ली, लेकिन पॉलिसी के रुपए नहीं दिलाए। शहर पुलिस आयुक्त ए.के.सिंह ने मामले की जांच साइबर क्राइम को सौंपी थी।

इन राज्यों के लोगों को लगाई चपत
आरोपियों ने देशभर के 11 राज्यों के लोगों को इस तरह चपत लगाई। इनमें पंजाब के 15 लोगों को १.१७ करोड़ की, गुजरात के 13 लोगों को ५९.७५ लाख, पूर्वी उ.प्र.के 11 लोगों को १.५० करोड़, म.प्र. के आठ लोगों को ६६ लाख, दिल्ली के सात लोगों को १७ लाख, महाराष्ट्र के सात लोगों को ४३ लाख, हरियाणा, के तीन लोगों को साढ़े 9 लाख, मुंबई के तीन लोगों को ६.४५ लाख की, आंध्रप्रदेश, बिहार और कर्नाटक के एक-एक युवक को क्रमश: चार, पांच और साढ़े छह लाख की चपत लगाएजाने का पता चला है।इसके प्राथमिक सबूत भी साइबर क्राइम के हाथ लगे हंै।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned