गोंडल सब जेल के जेलर गिरफ्तार, दो दिन का रिमांड मंजूर

गुजसीटोक के तहत बंद कुख्यात निखिल दोंगा व 12 साथियों के लिए ‘जलसा’ जेल बनाने का आरोप

By: Rajesh Bhatnagar

Updated: 18 Dec 2020, 12:08 AM IST

राजकोट. जिले के गोंडल सब जेल के फरार जेलर को गिरफ्तार कर बुधवार को न्यायालय में पेशकर रिमांड मांगने पर दो दिन का रिमांड मंजूर किया गया है।
सूत्रों के अनुसार अहमदाबाद व गांधीनगर की पुलिस टीम ने गोंडल शहर में वोरा कोटडा मार्ग स्थित सब जेल में करीब दो महीने पहले छापा मारा। उस समय गुजसीटोक कानून के तहत पुलिस टीमों के शिकंजे में आने के बाद से न्यायालय के आदेश पर गोंडल जेल में बंद गोंडल के कुख्यात आरोपी निखिल दोंगा व बाहर के 8-10 लोगों को सब जेल के बगीचे में खाने-पीने की महफिल करने का खुलासा हुआ।

न्यायालय ने खारिज की थी अग्रिम जमानत याचिका

उस समय से जेलर डी.के. परमार के विरुद्ध कैदियों को सुविधाएं उपलब्ध कराने के आरोप लगने की शुरुआत हुई। उसके बाद आरोपी परमार ने अग्रिम जमानत मंजूर करने के लिए न्यायालय में याचिका पेश की। वह याचिका नामंजूर किए जाने के बाद से पुलिस टीम परमार को पकडऩे के लिए प्रयासरत थी। इस बीच, इस प्रकरण की जांच कर रहे निरीक्षक एस.एम. जाड़ेजा, उप निरीक्षक बी.एल. झाला, हैड कांस्टेबल धनुभा जाड़ेजा ने खोजबीन के दौरान मुखबिर की सूचना पर आरोपी परमार को गोंडल से बुधवार को गिरफ्तार किया। जिला पुलिस अधीक्षक के अनुसार परमार को न्यायालय में पेशकर पांच दिन का रिमांड मांगा गया, दो दिन का रिमांड मंजूर किया गया है।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned