जामनगर जिला जेल में 357 कैदियों की कोरोना जांच, रिपोर्ट नेगेटिव

Jamnagar jail, Inmates, Corona negative, Staff member, JMC, Gujarat, Covid19, Ahmedabad news स्टाफ के 70 कर्मचारियों की रिपोर्ट भी नेगेटिव आने से राहत

By: nagendra singh rathore

Published: 23 Aug 2020, 11:07 PM IST

जामनगर. जिले में कोरोना का संक्रमण बढऩे के चलते जिला जेल में कैद 357 कैदियों की कोरोना जांच की गई। इसके अलावा जेल की सुरक्षा में तैनात 70 कर्मचारियों की भी कोरोना जांच करवाई गई। राहत की बात यह है कि कैदियों और कर्मचारियों सभी की कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई।
जिला जेल के प्रभारी सुप्रीटेन्डेंट पी.एच.जाड़ेजा एवं उनके स्टाफ के कर्मचारियों ने जेल में बंद कैदियों में कोरोना का संक्रमण तो नहीं फैला है। उसे जानने और उसे रोकने के लिए जेल के कैदियों की कोरोना जांच करवाई।
जामनगर महानगर पालिका की मदद से सभी कैदियों की कोरोना को लेकर रैपिड जांच की गई। 14 से 21 अगस्त के दौरान की गई। इस जांच में सभी कैदी और सभी स्टाफ के कर्मचारियों की रिपोर्ट नेगेटिव आने से जिला जेल प्रशासन ने राहत की सांस ली है।
कोरोना का संक्रमण जेल से दूर रखने के लिए जेल प्रशासन की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग एवं सेनेटाइजेशन की प्रक्रिया का पूरा ध्यान रखा जाता है। सेनेटाइजिंग टन भी बनाई गई है। जेल के कैदियों को फिलहाल परिजनों से रूबरू मुलाकात की छूट नहीं दी जा रही है। उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए परिजनों से बातचीत कराई जाती है, जिससे भी संक्रमण का खतरा अभी टला हुआ है।

बाहर से लाए गए तीन कैदी संक्रमित

जांच अभियान के दौरान बाहर की जेल से जिला जेल में लाए गए तीन कैदियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जिससे इन तीनों कैदियों को जिला जेल में अभी प्रवेश नहीं दिया गया है। इन तीनों को होम क्वारंटाइन किया गया है। किसी भी बाहरी कैदी को जिला जेल में प्रवेश देने से पहले उसे 14 दिन अलग जगह रखा जाता है। लक्षण नहीं दिखाई देने पर उसे जेल में प्रवेश दिया जाता है। उससे पहले उसकी कोरोना जांच भी कराई जाती है

nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned