पीलिया और टाइफाइड ने बढ़ाई मशक्कत

पीलिया और टाइफाइड ने बढ़ाई मशक्कत

Omprakash Sharma | Publish: Sep, 10 2018 10:11:59 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

आठ दिनों में ही मरीजों की संख्या दो सौ के करीब

अहमदाबाद. शहर में इन दिनों जलजनित पीलिया और टाइफाइड जैसे रोगों का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। विविध अस्पतालों में मात्र आठ दिनों में ही पीलिया के जहां ९७ मरीजों की पुष्टि हो चुकी है वहीं टाइफाइड के मरीजों की संख्या भी सौ के करीब पहुंच चुकी है।
शहर में गत एक सितम्बर से आठ सितम्बर तक टाइफाइड के मरीजों की संख्या ९९ बताई गई है। इसके अलावा पीलिया के ९७ मरीजों की पुष्टि हुई है। उल्टीदस्त के मरीजों की संख्या ८८ और हैजा के दो मरीज दर्ज हुए हैं। पिछले वर्ष सितम्बर माह के तीस दिनों में हैजा का एक ही मरीज दर्ज हुआ था जिसके मुकाबले महज आठ ही दिनों में दो मरीजों की पुष्टि हुई है। शहर के बहेरामपुरा और वटवा इलाके में दोनों हैजा के मरीज सामने आए हैं। पिछले आठ दिनों मेेें शहर में जलजनित मरीजों की संख्या करीब तीन सौ पर पहुंच गई है, जो चिन्ता का विषय है।
मच्छरजनित रोग के मरीजों में भी वृद्धि
दूसरी ओर शहर में मच्छरजनित रोग भी बढऩे लगे हैं। शहर में पिछल आठ दिनों में मलेरिया के मरीजों की संख्या साढ़े तीन सौ के करीब दर्ज हुई है। इसके अलावा फाल्सीफेरम के ३२ एवं डेंगू के नौ मरीज सामने आए हैं। हांलाकि पिछले वर्ष के मुकाबल मच्छरजनित रोगों की संख्या कुछ कम है।
शहर में किए ९६३३ क्लोरीन टैस्ट
दूसरी ओर मनपा के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डॉ. भाविन सोलंकी का दावा है कि जलजनित एवं मच्छरजनित रोगों पर नियंत्रण पाने के उद्देश्य से विविध कदम उठाए जा रहे हैं। शहर के विविध भागों में पानी के मुख्य ोतों और घरों में ९६३३ क्लोरीन के टेस्ट किए गए। साथ ही हाईरिस्क क्षेत्रों में भी पौने आठ सौ पानी के नमूने लेकर जांच को भेजे गए हैं। इसके अलावा २.६१ लाख क्लोरीन की गोलियों का वितरण किया गया जबकि डेढ़ लाख किलो से अधिक कीटनाशक का छिड़काव भी किया गया। शहरवासियों के स्वास्थ्य को ध्यान में लेकर अन्य कदम भी उठाए जा रहे हैं। इनमें खानपान की दुकानों पर वस्तुओं की जांच करना, सफाई व्यवस्था के अलावा प्रभावित इलाकों में मेडिकल टीम भेजाना आदि हैं।

Ad Block is Banned