खेड़ा जिला : माता ने पुत्र के साथ की आत्महत्या

ससुरालवालों पर प्रताडऩा का आरोप

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 03 Mar 2019, 11:03 PM IST

आणंद. खेड़ा जिले की बोरडी गांव निवासी महिला ने ससुरालवालों की प्रताडऩा से परेशान होकर तीन वर्षीय पुत्र के साथ आत्महत्या कर ली। मृतका के भाई की शिकायत के आधार पर डाकोर पुलिस ने मामला दर्ज किया है।
मृतकों में बोरडी गांव निवासी गीताबेन एवं तीन वर्षीय पुत्र शामिल है।
कपडवंज तहसील के अंतिसर गांव धनवंत परमार की बहन गीता का विवाह १० वर्ष पूर्व बोरडी गांव निवासी महेन्द्र राठौड़ के साथ हुआ था। पिछले तीन महीनों से गीताबेन को उसके पति व सास-ससुर शारीरिक एवं मानसिक रूप से परेशान करने थे और घर से निकाल दिया था। बाद में गीता का घर नहीं बिगड़े, यह सोचकर पीहर से उसे ससुराल कर गए। इस दौरान एक महीने पूर्व फिर पति ने मारपीट कर गीता को घर से निकाल दिया था। एक मार्च को समाधान होने से पुन: गीता ससुराल चली गई, लेकिन फिर ससुरालवाले प्रताडि़त करने लगे तो गीता ने शनिवार को केनाल की कुंडी में पुत्र के साथ कूदकर आत्महत्या कर ली।
इस संबंध में धनवंत की शिकायत के आधार पर मृतका के पति व सास-ससुर के विरुद्ध आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned