गांधीधाम. कच्छ जिले में तीन स्थानों पर आग लगने के चलते एक स्थान पर पक्षियों की मौत की आशंका जताई जा रही है।
सूत्रों के अनुसार रापर तहसील के खडीर क्षेत्र में जनाण-बांभणका के रण क्षेत्र में मंगलवार शाम को अचानक आग लग गई। आग के कारण चिडिय़ा, कबूतर, मोर सहित अनेक पक्षियों की मौत की आशंका जताई गई है। रापर के रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर चेतन पटेल के अनुसार आग लगने का क्षेत्र वन विभाग के अधीन नहीं है। गौरतलब है कि इस क्षेत्र में मंगलवार को तीसरी बार आग लगी। करीब एक सप्ताह पहले भी पांच-छह किलोमीटर क्षेत्र में और बाद में छह-सात किलोमीटर क्षेत्र में आग लगी थी।
भचाऊ में पीजीवीसीएल कार्यालय के स्टोर में थ्री फेस व सिंगल फेस की पेटियों में मंगलवार को आग लग लग गई। स्टोर में फाइबर की पेटियां पड़ी होने के कारण आग बेकाबू हो गई। सामखियाली, रापर, भीमासर, भचाऊ डिविजन में करीब चार घंटे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रही। भचाऊ नगर पालिका व अणुशक्ति कंपनी की दमकल टीमों ने मौके पर पहुंचकर कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग के कारण जनहानि नहीं हुई। पीजीवीसीएल व गेटको की टीमों ने प्रयास कर भचाऊ शहर में विद्युुत आपूर्ति बहाल की। गेटको के डिविजन सचिव सामजी आहीर के अनुसार फीडर में नुकसान होने के बावजूद डायवर्ट कर विद्युत आपूर्ति बहाल की गई।
नखत्राणा तहसील के वडवा भोपा गांव में सूखी घास में अचानक आग लग गई। सूचना मिलने पर दमकल टीम ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned