अपने पैतृक गांव में बनवा रहे मुख्य प्रवेश द्वार

समाजसेवी ने जताया मूल गांव के प्रति प्रेम

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 17 Feb 2021, 11:35 PM IST

गांधीधाम. कच्छ जिले की भचाऊ तहसील के जंगी गांव के मुख्य प्रवेश द्वार का भूमिपूजन-शिलान्यास समाजसेवी के.सी. ठक्कर ने किया।
मूल जंगी गांव व कच्छ जिले के गांधीधाम में स्थायी तौर पर रहने वाले के.सी. ठक्कर ने जंगी गांव में संत फकीरी के नाम से विख्यात अपने दादा मेकरण दादा के नाम पर साढ़े 12 लाख रुपए के खर्च से द्वार का निर्माण करवाने का निर्णयकर ठक्कर परिवार की ओर से अपने मूल गांव के प्रति पे्रम दर्शाया है।
उन्होंने जंगी गांव के सरकारी स्कूल का द्वार बनवाने का आश्वासन भी दिया। दोनों द्वारों के निर्माण के लिए दानदाता के तौर पर के.सी. ठक्कर ने अपनी माता रेवाबेन छगनलाल मावजीभाई का नाम घोषितकर माता-पिता का ऋण अदा करने की घोषणा की।
कच्छ लोहाणा समाज के भामाशाह के.सी. ठक्कर की पत्नी गीताबेन ने भी ग्रामीणों को हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया। जंगी गांव के अखाड़े के महंत वालजीडाडा ने मंत्रोच्चार कर आशीर्वाद दिया। भचाऊ तहसील रघुवंशी सोशल ग्रुप के अध्यक्ष धीरजलाल ठक्कर, जंगी गांव के मोहन, अमरशी, कमा आहिर, देवजी, शिक्षक भरत आदि ने के.सी. ठक्कर के कार्य की सराहना की। जंगी गांव के सरपंच रणछोड़ आहिर ने आभार व्यक्त किया।
गौरतलब है कि समाजसेवी के.सी. ठक्कर के परिवार की ओर से अलग-अलग संस्थाओं को साथ रखकर पूरे कच्छ जिले में अध्ययनरत विद्यार्थियों, जरूरतमंद बच्चों को पुस्तकें, बॉलपेन, स्कूल बैग सहित अध्ययन की आवश्यक वस्तुओं का दान किया जाता है।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned