Metro train यात्रियों के लिए बनी 'Picnic"

Metro train, picnic, passengers, ahmedabad news, Metro station, elevated corridor, ahmedabad news today

अहमदाबाद. वस्राल गांव से एपरेल पार्क तक मेट्रो ट्रेन मार्च से दौडऩे लगी। मौजूदा समय में यात्री इस ट्रेन में पिकनिक के तौर सफर कर रहे हैं। इनके बीच चार स्टेशन-निरांत चौकड़ी, वस्त्राल, रबारी कॉलोनी, और अमराईवाडी स्टेशन हैं। फिलहाल ज्यादातर लोग वस्त्राल गाम, निरांत चौकड़ी, अमराईवाडी और एपरेल पार्क से ही सफर करते हैं, लेकिन अभी भी वस्राल और रबारी कॉलोनी स्टेशन हैं, जिनका निर्माण कार्य चल रहा है। यह कार्य फरवरी तक पूरा हो सकता है। इसके बाद से यात्री इन स्टेशनों से मेट्रो ट्रेन में सफर कर सकेंगे। फिलहाल मेट्रो ट्रेन सिर्फ छह किलोमीटर तक ही दौड़ती है लेकिन सफर के तौर पर जितना लोगों को उपयोग करना चाहिए उतना नजर नहीं आ रहा है। हालांकि सुबह -शाम के दौरान मेट्रो ट्रेन में यात्री जरूर नजर आते हैं, जिसमें विशेष तौर पर नौकरीपेशा वाले लोग होते हैं। दोपहर के वक्त यात्री कम सफर करते दिखते हैं। कई लोग इस ट्रेन में पिकनिक का लुत्फ उठाते नजर आए। हर रोज औसतन 900 से एक हजार यात्री मेट्रो में सफर कर रहे हैं। हालांकि दीपावली पर यात्रियों की संख्या बढ़ी थी। यह माना जा रहा है कि जब ट्रेन अहमदाबाद स्टेशन तक प्रारंभ होगी तो इसका ज्यादा उपयोग हो सकेगा।

पहला चरण वर्ष 2021 हो सकता है पूर्ण

एक अधिकारी के अनुसार मोटेरा से वासणा तक मेट्रो ट्रेन का कार्य तेजी से चल रहा है। स्टेशन बनाने और पटरियां बिछाने का कार्य चल रहा है। हालांकि साबरमती रेलवे स्टेशन के निकट रेलवे लाइन के ऊपर का निर्माण कार्य तकनीकी कारणों से रुका है। वहीं एपरेल पार्क से शाहपुर तक टनल बिछाने का कार्य भी काफी तेजी से चल रहा है। साथ अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के निकट मेट्रो स्टेशन बनाने का कार्य चल रहा है। यूं कहा जाए तो अभी तक मेट्रो ट्रेन का साठ फीसदी तक पूर्ण हो चुका है। वस्राल से थलतेज और मोटेरा से वासणा तक पहले चरण का कार्य वर्ष 2021 तक पूर्ण हो सकता है। वहीं मोटेरा से गांधीनगर में महात्मा मंदिर तक दूसरे चरण का कार्य अगले वर्ष से प्रारंभ हो सकता है। यह एलीवेटेड कोरिडोर होगा। यह 22.8 किलोमीटर लम्बा मार्ग होगा, जिसमें 20 स्टेशन बनेंगे। महात्मा मंदिर में मल्टी मॉडल हब बनेगा, जहां से यात्री सीधे ही गांधीनगर रेलवे स्टेशन पहुंच सकेंगे। साथ ही सिटी बस के अलावा निजी बस सेवा भी प्रारंभ होगी। वहीं जीएनएलयू से गिफ्ट सिटी तक 5.4 किलोमीटर लम्बा एलीवेटेड कोरिडोर पर दो मेट्रो स्टेशन होंगे।
गुजरात मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के जनसंपर्क अधिकारी अंकुर पाठक ने बताया कि फरवरी तक वस्राल और रबारी कॉलोनी मेट्रो स्टेशन का कार्य पूरा हो जाएगा। बाद में यह से भी यात्री सफर करने लगेंगे। हररोज औसतन एक हजार यात्री सफर करते हैं। दीपावली पर यात्रियों की संख्या बढ़ी थी। सुबह-शाम मेट्रो में ज्यादा भीड़ रहती है। विशेष तौर पर नौकरीपेशा वाले होते हैं।

Pushpendra Rajput
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned