औद्योगिक इकाइयों में लौटने लगे प्रवासी श्रमिक

लॉकडाउन में गए थे गांव

By: Gyan Prakash Sharma

Updated: 07 Jul 2020, 01:17 AM IST

हालोल, लॉकडाउन के बाद वडोदरा और उसके आसपास के औद्योगिक इलाकों में अब प्रवासी श्रमिकों का गांव से लौटना शुरू हो गया है। कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन में ये श्रमिक अपने गांव चले गए थे।


लॉकडाउन के बाद वडोदरा में अब फिर से औद्योगिक इकाइयां शुरू हो गई हैं, लेकिन श्रमिकों को कमी है। इसके चलते कई श्रमिकों को तो औद्योगिक इकाइयां बुला रही है ताकि उद्योग को गति मिल सकेंगे।
गुजरात एमएसएमई फोरम के चेयरमैन कश्यप शाह का कहना है कि सबसे ज्यादा प्रवासी श्रमिक सावली, मंजूसर, पादरा और नंदेसरी इलाकों में काम कर रहे है, जिसमें केमिकल और इंजीनियरिंग की औद्योगिक इकाइयां ज्यादा हैं। इन इकाइयों में बिहार, उत्तर प्रदेश और उड़ीसा के लोग ज्यादा हैं। अब तक दस हजार से ज्यादा श्रमिक पहुंच चुके हैं। उन्होंने कहा कि ये श्रमिक लॉकडाउन के दौरान अपने-अपने गांव चले गए थे।


श्रमिकों का कहना है कि आखिरकार काम तो करना है। यहां काफी समय से काम कर रहे हैं। इसके चलते फिर से आ गए हैं। घर जो चलाना है। परिवार को पालना है।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned