scriptMore than two lakh devotees visited Mahakali Mata | छुट्टी के दिन दो लाख से ज्यादा भक्तों ने किए महाकाली माता के दर्शन | Patrika News

छुट्टी के दिन दो लाख से ज्यादा भक्तों ने किए महाकाली माता के दर्शन

यात्राधाम पावागढ़ स्थित महाकाली माताजी मंदिर में भक्तों की भीड़

अहमदाबाद

Published: July 04, 2022 01:01:11 am

दाहोद. पंचमहाल जिले के पवित्र यात्राधाम पावागढ़ स्थित महाकाली माताजी के धाम में रविवार को सुबह के समय से ही माता के दर्शन के लिए हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।
सुबह के समय से ही यहां पर पावागढ़ की तलहटी में स्थित चांपानेर से लेकर पहाड़ पर माताजी के मंदिर तक श्रद्धालुओं की भीड़ देखी गई। सभी भक्तों की बस एक ही इच्छा थी कि वे कितनी जल्दी मां काली के दर्शन का लाभ ले पाएंगे। 500 वर्ष बाद महाकाली माताजी के मंदिर शिखर पर लहराती हुई ध्वजा को देखकर श्रद्धालु उनके चरणों में शीश झुकाने के लिए अपनी बारी का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे।
हाल ही में यात्राधाम पावागढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाकाली माताजी के मंदिर के शिखर पर ध्वजा चढ़ाकर देश और दुनिया भर में बसे हुए मां काली के भक्तों की इच्छा पूरी कर दी है। अवकाश का दिन होने की वजह से यहां पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। इसकी वजह से सुबह से शाम तक यहां पर करीब दो लाख से ज़्यादा श्रद्धालुओं ने महाकाली माताजी के दर्शन किए।
छुट्टी के दिन दो लाख से ज्यादा भक्तों ने किए महाकाली माता के दर्शन
छुट्टी के दिन दो लाख से ज्यादा भक्तों ने किए महाकाली माता के दर्शन
'चार अवस्थाओं से होकर गुजरते हैं आध्यात्मिक साधक'


हिम्मतनगर. आनन्द मार्ग प्रचारक संघ की ओर से आयोजित प्रथम संभागीय सेमिनार के अवसर पर आनन्द मार्ग के केंद्रीय धर्म प्रचार सचिव आचार्य सत्यश्रयानंद अवधूत ने "साधना की चार अवस्थाएं" विषय पर प्रवचन दिया। उन्होंने कहा कि आध्यात्मिक साधना में मानवीय प्रगति एवं प्रत्याहार योग के चार चरण हैं यतमान, व्यतिरेक, एकेन्द्रिय एवं वशीकार। एक साधक को क्रम से इन चार अवस्थाओं से गुजरते हुए आगे बढऩा होता है। प्रथम अवस्था अर्थात यतमान में मानसिक वृत्तियॉ चित्त की ओर उन्मुख होती है। साधना के इस प्रयास में नकारात्मक प्रभावों या वृतियों को नियंत्रित करने का प्रयास होता है। साधक इनके खराब वृतियों के विरुद्ध संघर्ष करते हुए इन पर विजय पाने की चेष्टा करता है और वृत्ति प्रवाह से अपने को हटा लेने का सतत प्रयास करता है। दूसरी अवस्था व्यतिरेक की है। व्यतिरेक में साधक की वृत्तियां मन के चित्त से अहम तत्व की और उन्मुख होती है। इसमें कभी प्रत्याहार होता है, कभी नहीं होता।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार आज लेंगे CM पद की शपथ, प्रशांत किशोर बोले- नीतीश की कम हुई विश्वसनीयताबीजेपी का 'इतिहास' है, जिस राज्य में बढ़ाया कद उस राज्य में सहयोगी दल ने किया किनारानीतीश के NDA छोड़ने के बाद पी चिदंबरम ने बीजेपी पर किया हमला, ट्वीट करके कही ये 6 बातेंड्रग केस में फंसे अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को बड़ी राहत , पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से मिली जमानतफिनलैंड, स्वीडन NATO में शामिल, US President जो बाइडन ने किए इंस्ट्रूमेंट ऑफ रेटिफिकेशन पर हस्ताक्षर: अब क्या करेगा रूस?दिल्ली में हर दिन 6 रेप, इस साल के पहले 6 महीने में दर्ज हुए 1,100 से अधिक मामलेMaharashtra: कानून तोड़ने का अधिकार सिर्फ हमें है... केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अफसरों को फटकारादूसरी बार कोरोना संक्रमित हुई कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, भाई राहुल गांधी भी अस्वस्थ, टला राजस्थान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.