Narmada water issue: मध्यप्रदेश का यह आरोप गलत है कि गुजरात बिजली पैदा नहीं कर रहा है : रूपाणी

Narmada water issue: मध्यप्रदेश का यह आरोप गलत है कि गुजरात बिजली पैदा नहीं कर रहा है : रूपाणी

Uday Kumar Patel | Publish: Jul, 20 2019 07:42:32 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

-गुजरात ने अपनी ओर से कोई निर्णय नहीं किया है

-आज भी 250 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है

-मध्य प्रदेश को आज भी बिजली उत्पादन का 57 फीसदी हिस्सा मिलता है

 

अहमदाबाद/राजकोट. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि मध्यप्रदेश का यह आरोप गलत है कि गुजरात बिजली पैदा नहीं कर रहा है। गुजरात ने अपनी ओर से कोई निर्णय नहीं किया है। आज भी 250 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है और मध्य प्रदेश को आज भी बिजली उत्पादन का 57 फीसदी हिस्सा मिलता है। इसलिए इसमें कोई सच्चाई नहीं है कि बिजली उत्पादन नहीं हो रहा है।

उन्होंने मध्य प्रदेश के मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और पर्यटन व नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण और राजनीति प्रेरित बताते हुए कहा कि नर्मदा के पानी को लेकरौ गुजरात के लिए खतरे का मुद्दा अनुचित है। कांग्रेस की एम पी सरकार राजनीतिक उद्देश्यों के साथ ऐसा कर रही है। गुजरात कांग्रेस को भी जवाब देना चाहिए।

मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात और राजस्थान नर्मदा नियंत्रण अधिकरण (एनसीए) से जुड़े हैं जिसे सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गठित किया गया है।

उल्लेखनीय है कि नर्मदा प्रोजेक्ट गुजरात की जीवन रेखा मानी जाती है। इससे राज्य के 165 शहरों व दस हजार गांवों के 3 करोड़ से ज्यादा लोग इस पानी पर निर्भर हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned