script जामनगर : 95 लाख रुपए की चोरी की गुत्थी सुलझी, पड़ोस में दुकान वाला गिरफ्तार | Mystery of theft Rs 95 lakh solved, shop owner arrested | Patrika News

जामनगर : 95 लाख रुपए की चोरी की गुत्थी सुलझी, पड़ोस में दुकान वाला गिरफ्तार

locationअहमदाबादPublished: Dec 11, 2023 10:17:36 pm

Submitted by:

Rajesh Bhatnagar

छिपाकर रखी नकदी बरामद

जामनगर : 95 लाख रुपए की चोरी की गुत्थी सुलझी, पड़ोस में दुकान वाला गिरफ्तार
बरामद की गई नकदी के साथ एसपी प्रेमसुख डेलू व टीम।
जामनगर. जिले के कालावड़ इलाके के आनंदपर गांव में एक घर से 95 लाख रुपए की चोरी की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने पड़ोस में दुकान वाले को गिरफ्तार किया। छिपाकर रखी नकदी भी पुलिस ने बरामद की।
जिला पुलिस अधीक्षक प्रेमसुख डेलू ने सोमवार को बताया कि जांच में जुटी स्थानीय पुलिस और एलसीबी टीम ने उस घर के पड़ोस में किराणे की दुकान वाले लवजी गोरसिया को इस चोरी में संदिग्ध पाया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर पूछताछ की।उसने चोरी की बात कबूल कर ली। उसने अपने रिश्तेदार के खेत में छिपाई नकदी भी निकाली। पुलिस ने 95 लाख रुपए नकद बरामद किए।
यह था मामला

कालावड ग्रामीण थाने में दर्ज शिकायत के अनुसार 7 दिसंबर को दोपहर 12 से शाम 7 बजे के बीच अज्ञात व्यक्ति ने कालावड के समीप आनंदपर गांव के निवासी दीपक भीखा जसदिया के घर में प्रवेश किया और 95 लाख रुपए नकद चुराकर भाग गया।
इसके बाद एसपी प्रेमसुख डेलू के निर्देश पर उपाधीक्षक जयवीरसिंह झाला के मार्गदर्शन में उप निरीक्षक एच.पी. पटेल और एलसीबी के निरीक्षक जे वी चौधरी, उप निरीक्षक आर.के. करमटा, एस.पी. गोहिल, पी.एन. मोरी और स्टाफ ने जांच शुरू की।
राजकोट गए थे घर के सदस्य

घर मालिक दीपक व उनकी पत्नी एक भतीजे की सगाई से संबंधित एक समारोह में भाग लेने के लिए गुरुवार को राजकोट गए थे। उसके पिता और दो भाई कहीं और जमीन खरीदने के लिए खेत देखने गए थे। बाद में एक अज्ञात व्यक्ति ने चोरी कर ली। शाम को दीपक के पिता और भाई घर आए तो उन्हें चोरी का पता लगा। जिस कमरे से चोरी हुई थी उसके समीप वाले कमरे की जब जांच की गई तो उस कमरे में रखी 85 लाख रुपए ज्यों के त्यों मिले।
जांच में जुटी अलग-अलग टीमें

इस मामले का पता लगाने के लिए पुलिस की अलग-अलग टीमें, तकनीकी सेल और मानव संसाधन का उपयोग कर जांच में जुटी थीं। एलसीबी के निरीक्षक चौधरी व स्टाफ को जानकारी मिलने पर आरोपी को पकड़ा। आरोपी के मुताबिक उसकी दुकान शिकायतकर्ता के घर के समीप स्थित है, इसलिए वह जानता था कि दीपक के परिवार ने हाल ही में जमीन बेची है और रुपए घर में रखे हैं।
वारदात को ऐसे दिया अंजाम

इस बीच, पिछले गुरुवार को घर बंद था। जब परिवार एक सगाई के लिए बाहर गया था और अन्य लोग अन्य काम के लिए बाहर गए थे, तब लवजी की नियत बिगड़ी और घर का दरवाजा तोड़ने के बाद उसने अंदर जाकर चाबी से अलमारी को खोला। उसमें से 95 लाख रुपए निकाल लिए और आनंदपर गांव के समीप अपने रिश्तेदार के खेत में छिपा दिए।

ट्रेंडिंग वीडियो