93 वर्ष की नर्मदाबेन ने दृढ़ मनोबल से 6 दिन में कोरोना को दी मात

वडोदरा. जिले की शिनोर तहसील के कराडा गांव निवासी, मोटा फोफलिया गांव में स्थित कोविड केयर सेंटर में भर्ती में दी मात

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 03 May 2021, 12:04 AM IST

जफर सैयद


वडोदरा. जिले की शिनोर तहसील के कराडा गांव निवासी नर्मदाबेन पटेल (93) ने दृढ़ मनोबल व आत्मविश्वास से मात्र 6 दिन में कोरोना को मात दी है।
नर्मदाबेन की पौत्रवधू जल्पा पटेल के अनुसार दादी सास को कोरोना संक्रमित होने पर शिनोर तहसील के मोटा फोफलिया गांव में स्थित कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया। वहां चिकित्सकों की ओर से किए गए उपचार के साथ ही दृढ़ मनोबल व भरपूर आत्मविश्वास के कारण मात्र 6 दिन में कोरोना को मात दे दी। इसके बाद उन्हें संपूर्ण तौर पर स्वस्थ होने पर घर ले जाया गया।
उनके अनुसार कोरोना से डरने या भय रखने की आवश्यकता नहीं है, मरीज को समय पर उपचार मिलने पर निश्चित तौर पर कोरोना से मुक्ति संभव है, नर्मदाबेन इस बात का उदाहरण हैं। सेंटर में मरीजों को दवाई, चाय-नाश्ता, भोजन भी निशुल्क दिया जाता है। इसके साथ ही चिकित्सकों की ओर से ध्यान रखने के अलावा उपचार भी किया जा रहा है।

अब तक 32 मरीजों ने जीती जंग

जानकारी के अनुसार शिनोर तहसील के मोटा फोफलिया गांव में शक्तिकृपा चेरिटेबल ट्रस्ट के सहयोग से जिला प्रशासन की ओर से संचालित किए जा रहे 100 बेड के कोविड केयर सेंटर में अब तक 105 मरीजों को भर्ती किया गया। ट्रस्ट के संचालक अशोक पटेल के अनुसार 200 बेड क्षमता बढ़ाई जा सकती है। यहां 32 मरीजों ने कोरोना से जंग जीती है, 66 मरीज उपचाराधीन हैं, 11 मरीजों को अन्य अस्पतालों मेंं भेजा है।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned