एनसीबी ने 5.30 किलोग्राम चरस के साथ दो को पकड़ा

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने जुहापुरा से दो लोगों को ५.३० किलोग्राम चरस के साथ पकड़ा है। पकड़ी गई चरस जम्मू एवं कश्मीर की बताई जा रही है, जिस

By: मुकेश शर्मा

Published: 10 Nov 2017, 06:09 AM IST

अहमदाबाद।नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने जुहापुरा से दो लोगों को ५.३० किलोग्राम चरस के साथ पकड़ा है। पकड़ी गई चरस जम्मू एवं कश्मीर की बताई जा रही है, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत ३५ लाख के करीब है।

एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक हरीओम गांधी ने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि चरस को लेकर एक युवक जुहापुरा पानी की टंकी के पास किसी व्यक्ति को सौंपने वाला है। सूचना के आधार पर जाल बिछाकर सात नवंबर की रात को एनसीबी की टीम ने जुहापुरा में ही रहने वाले आबिद मियां (४५) को और खानपुर निवासी इंतेखाब आलम (४४) को यहां से पकड़ा। इनके पास से लड्डू के आकार में पांच किलो ३९० ग्राम चरस जब्त की है। इसे आबिद ने पांच पैकेट में पैक किया था।

पूछताछ में आबिद ने कबूला कि वह अहमदाबाद में एक युवक को यह चरस पहुंचाने वाला था। उस व्यक्ति के लिए इंतेखाब ने चरस लेने पहुंचा था। आबिद के इलाके का बड़ा चरस तस्कर होने की बात जांच में सामने आई है। दोनों ही को गुरुवार को अदालत में पेश करने पर अदालत ने दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

शिवसेना ने भी ठोकी ताल

प्रथम चरण में ५० से ज्यादा सीटों पर प्रत्याशी उतारने की घोषणा

केन्द्र और महाराष्ट्र में गठबंध के तहत भाजपा के साथ सरकार चलाने वाली शिवसेना ने भी गुजरात विधानसभा चुनावों में ताल ठोकी है। प्रथम चरण की ८९ सीटों में से ५० से ७५ सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने की गुरुवार को पार्टी ने घोषणा की है। दूसरे चरण में भी करीब इतने ही प्रत्याशियों को उतारने पर मंथन चल रहा है।

शिवसेना पार्टी के राष्ट्रीय सचिव व राज्यसभा सांसद अनिल देसाई ने गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की कि शिवसेना गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कच्छ, सौराष्ट्र, दक्षिण गुजरात में ५० से ७५ सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। ऐसी सीटों पर प्रत्याशी उतारे जाएंगे, जिन पर जीत की संभावना ज्यादा होगा। हम हिंदुत्व और विकास के मुद्दे पर गुजरात में चुनाव मैदान में उतरेंगे। उन्होंने कहा कि शिवसेना का गुजरात में भाजपा के साथ कोई गठबंधन नहीं है।

जल्द ही प्रत्याशियों की सूची जारी की जाएगी। जैसे-जैसे चुनावी प्रचार जोर पकड़ेगा शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी गुजरात में चुनाव प्रचार में आ सकते हैं।गुजरात चुनाव प्रभारी राजुलबेन पटेल ने कहा कि हम विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ेंगे। हम इससे पहले भी अलग चुनाव लड़े थे। इस बार भी लड़ रहे हैं। सीटें जीतने पर किस पार्टी को समर्थन दिया जाएगा। इसका फैसला बाद में पार्टी के शीर्ष नेतागण करेंगे।

मध्यगुजरात के अध्यक्ष अशोक शर्मा ने कहा कि बेरोजगारी, शिक्षा के निजीकरण, किसानों की समस्याओं को लेकर मैदान में उतरेंगे। जहां तक पाटीदार आरक्षण पर राय का सवाल है। संविधान से परे जाकर कुछ भी करना संभव नहीं है फिर भी जो संभव कदम उठाए जा सकते हैं उसके लिए पार्टी जरूर कोशिश करेगी।

पार्टी की ओर से गुरुवार को गुजरात में चुनावी प्रत्याशियों के नामों पर मंथन हुआ। इसमें गुजरात चुनाव ? प्रदेश प्रभारी राजुल पटेल, गुजरात प्रदेश अध्यक्ष उमेश इंजीनियर, मध्यगुजरात अध्यक्ष अशोक शर्मा सहित टिकिट इच्छुक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned