एसटी की नई बस ने यात्रियों को दिया धोखा

रास्ते में फटी एयर पाइप

By: Pushpendra Rajput

Updated: 08 Dec 2018, 10:50 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात राज्य सड़क परिवहन (जीएसआरटीसी) की नई बस में सवार यात्रियों को उस समय कड़वा अनुभव हुआ जब वे अहमदाबाद से नडियाद के लिए उस बस में सवार हुए, लेकिन मणिनगर में गोर का कुआं के निकट उसकी एयर पाइप फट गई। बाद में दूसरी बस के पहुंचने पर यात्रियों को दूसरी बस से रवाना किया गया। एसटी ने शनिवार को ही अपने बेड़े में सात नई बसें जोड़ी गई हैं।
नरोडा वर्कशॉप से एसटी की अहमदाबाद से नडियाद रूट की नई बस में यात्री सवार हुई थी। उनको उम्मीद थी कि नई बस हैं तो उनको गंतव्य पर जल्दी पहुंचा देगी, लेकिन एक घंटे बाद ही मणिनगर में गोर का कुआं मार्ग पर दक्षिणी अंडरब्रिज के निकट बस की एयर पाइप फट गई। सतर्कता बरतते हुए बस चालक और कंडक्टर ने यात्रियों को बस से उतार लिया। इस बस में सवार एक एनआरआई महिला को भी एसटी की कड़वा अनुभव हुआ है। महिला ने बताया उसे उम्मीद थी कि बस नई है तो वह एक घंटे में नडियाद पहुंच जाएगी, लेकिन नई बस में ऐसा हो या उम्मीद से परे हैं।
सामाजिक कार्यकर्ता हर्षद पटेल ने बताया कि करीब एक घंटे तक यात्री यहां खड़े रहे। बाद में नई बस के पहुंचने पर ये यात्री रवाना हुए।

दक्षिण कोरिया से मेट्रो ट्रेन के तीन कोच रवाना
अहमदाबाद. दक्षिण कोरिया से समुद्री मार्ग से मेट्रो ट्रेन के तीन कोच रवाना हो गए हैं, जो संभवत: तीन सप्ताह में मुन्द्रा बंदरगाह पहुंचेंगे। इससे पूर्व सितम्बर के अंत में मेट्रो कोच लगाय जा चुका है, जिसे आमजन के देखने के लिए साबरमती रिवरफ्रंट पर रखा गया है। राज्य सरकार ने अगले वर्ष दिसम्बर तक अहमदाबाद में मेट्रो रेल दौडऩे की तैयारी की है। फिलहाल वस्राल गांव से एपरेल पार्क तक मेट्रो ट्रेन का काफी हद तक कार्य हो चुका है, जहां अगले माह ट्रायल रन प्रारंभ हो सकता है। यह प्रोजेक्ट 10 हजार 700 करोड़ रुपए होगा, जिसमें छह हजार करोड़ का ऋण लिया गया है। सरसपुर से शाहपुर तक मेट्रो के अंडरग्राउंड टनल का कार्य चल रहा है। प्रथम चरण का प्रोजेक्ट 40 किलोमीटर का है, जिसमें 33.5 किलोमीटर एलीवेटेड और 6.50 किलोमीटर अंडरग्राउंड है। इस मार्ग में 32 स्टेशन होंगे। आगामी समय में कालूपुर रेलवे स्टेशन का मल्टीपर्पज के तौर पर उपयोग किया जाएगा, जहां थ्री लेयर (त्रिस्तरीय) परिवहन सुविधा उफलब्ध होगी। यहां से मेट्रो ट्रेन, रेलवे ट्रेन और बुलेट ट्रेन तीनों में एक ही जगह से सफर किया जा सकेगा। मेट्रो ट्रेन का पहला कोच सितम्बर के अंत में अहमदाबाद लाया गया, जिसे साबरमती रिवरफ्रंट पर रखा गया। आमजन में मेट्रो ट्रेन को लेकर काफी उत्सुकता है।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned